अवैध वैन के खिलाफ स्कूल बस एसोसिएशन करेगी हड़ताल

 Mumbai
अवैध वैन के खिलाफ स्कूल बस एसोसिएशन करेगी हड़ताल
अवैध वैन के खिलाफ स्कूल बस एसोसिएशन करेगी हड़ताल
See all

राज्य के स्कूल बस एसोसिएशन ने नियमों की अनदेखी कर रहे स्कूली वैन के खिलाफ आन्दोलन करने का निर्णय लिया है। एसोसिएशन का कहना है कि स्कूली वाहनों के लिए सरकार की तरफ से नियम बनाए जाने बावजूद स्कूलों के सहयोग से कई वैन बच्चों की सुरक्षा को ताक पर रख कर सड़क पर चल रहे हैं। सरकार को इन पर कार्रवाई करनी चाहिए। ऐसा न करने पर एसोसिएशन ने 1 अगस्त से हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है।

स्कूल बस एसोसिएशन के अनुसार मुंबई और उसके आसपास के क्षेत्रों में लगभग 7500 स्कूल बस और वैन बच्चों को ढोने का काम करते हैं। इन बसों से हजारों बच्चे स्कूल आते जाते हैं। इन बच्चों की जिम्मेदारी इन्ही बस और वैन वालों पर होती है। बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए प्रशासन ने बस और उनके ड्राईवर व अटेंडेंट के लिए कई गाइड लाइन जारी की थी। एसोसिएशन ने आगे बताया कि इन गाइड लाइन का पालन करना हर स्कूल के बस और वैन को अनिवार्य है, बावजूद इसके कई वैन में इन नियमों की अनदेखी करने की बात सामने आई है।


हमने राज्य सरकार से इस बारे में विनती की थी सरकार ने जल्द ही इस बारे में कानून बनाने का आश्वासन दिया था लेकिन अभी तक उनकी तरफ से कोई कदम नहीं उठाया गया है अगर ऐसा नहीं किया गया तो हम आन्दोलन भी करेंगे

अनिल गर्ग, अध्यक्ष, स्कूल बस असोसिएशन


स्कूली वाहनों के लिए नियम


  • बस से स्कूल आने जाने वाले बच्चों के सुरक्षा की जिम्मेदारी स्कूल की होगी।
  • स्कूल में कार्यरत सभी वाहनों को स्कूल से करार करना अनिवार्य है
  • बस का ड्राईवर अनुभवी होना चाहिए उसे कम से कम 5 साल का अनुभव होना चाहिए. यातायात नियमों को तोड़ने के लिए ड्राईवर को सजा नहीं मिली हो
  • स्कूली बस को केवल स्कूल के बच्चों को ढोने के काम में ही होना चाहिए
  • 15 साल से अधिक पुरानी बस नहीं होनी चाहिए
  • बस में क्षमता से अधिक बच्चे नहीं होना चाहिए
  • बस में आपातकालीन खिड़की, अग्निशमन यंत्र, फर्स्ट ऐड किट सहित सुरक्षा के अन्य उपाय भी होने चाहिए
  • बस में कम से कम दो अटेंडेंट होने चाहिए


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 







Loading Comments