नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा


  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
  • नेशनल पार्क में वन विभाग का बुल्डोजर गरजा
SHARE

बोरीवली पूर्व नेशनल पार्क के अंदर के बने झोपड़ों को वन विभाग के अधिकारियों ने पुलिस के भारी बंदोबस्त के साथ ध्वस्त कर दिया। इस मामले में वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि इन लोगों को सिफ्टिंग दी गयी थी। ये लोग अपना सिफ्टिंग का घर भाड़े पर देकर यहां रह रहे थे। 

वहीं स्थानीय लोगों ने कहा कि उन लोगों को सिफ्टिंग दी ही नहीं गयी है। यहां से विधायक प्रकाश सुर्वे ने इस तोड़क कार्रवाई का विरोध किया है।

खबर के मुताबिक नेशनल पार्क के अंदर कई गांव हैं जहां आदिवासी लोग कई वर्षों से रहते आ रहे हैं। 1994 में कोर्ट के आदेश के बाद वन विभाग ने नेशनल पार्क के अंदर और उससे सटे एरिया का सर्वे किया। 

कोर्ट ने उन लोगों को शिफ्ट करने का आदेश दिया। अभी कुछ लोगों को अंधेरी पूर्व चांदीवली में शिफ्ट किया गया है। 1994 के पहले के रहने वालों ने 7 हजार रुपये भरे हैं लेकिन अभी तक केवल 10 प्रतिशत लोगों को ही शिफ्टिंग दी गयी है।

 4 मई को दोपहर को वन विभाग के अधिकारी पुलिस बंदोबस्त के साथ पहुंचे और सैकड़ों झोपड़ों पर बुलडोजर चला दिया। इस सम्बन्ध में वन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जिन लोगों को शिफ्टिंग दिया गया है वे लोग मिले घर को भाड़े पर देकर यहां रह रहे हैं और जो नए झोपड़े बनाये गए हैं उन्हीं को तोडा गया है।

 वहीं स्थानीय शिवसेना विधायक प्रकाश सुर्वे ने इस तोड़क कार्रवाई का विरोध कर रहे हैं। नए बन रहे झोपड़ों के बारे में उन्होंने कहा कि जब झोपड़े बन रहे थे नेशनल पार्क के अधिकारी क्या कर रहे थे।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

संबंधित विषय