• ट्रैफिक विभाग के निर्णय के विरोध में मनसे
  • ट्रैफिक विभाग के निर्णय के विरोध में मनसे
  • ट्रैफिक विभाग के निर्णय के विरोध में मनसे
  • ट्रैफिक विभाग के निर्णय के विरोध में मनसे
SHARE

भारत के सबसे धनी मंदिरों में से एक है मुंबई का सिद्धि विनायक मंदिर। सिद्धि विनायक के दर्शन के लिए भक्त दूर-दूर से आते हैं। यही नहीं विनायक के दर्शन के लिए तो कई लोग तो पैदल ही बड़ी दूर से आते है। मंगलवार को यहां बड़ी भीड़ लगती है, भक्त सोमवार रात से ही यहां जमा होने लगते हैं। भक्तों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए ट्रैफिक विभाग ने निर्णय लिया कि पुर्तगीज चर्च से एस.के बोले रोड को बंद किया जाएगा। लेकिन स्थानीय निवासियों द्वारा ट्रैफिक विभाग के इस निर्णय का विरोध किया जा रहा है।


स्थानीय महिला निवासी नेहा गोलपकर के अनुसार शेयर टैक्सियों के कारण यहां भीड़ अधिक बढ़ती है। अगर यह रास्ता बंद हो गया तो लोग कहां से आएंगे और जाएंगे। इस निर्णय पर ट्रैफिक विभाग को एक बार फिर से विचार करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि अगर ट्रैफिक विभाग अपना निर्णय नहीं बदलता तो हम रस्ते पर उतर कर आंदोलन करेंगे।

अब यह मुद्दा राजनीतिक रंग लेने लगा है। स्थानीय निवासियों के समर्थन में मनसे (महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना) आ गई है। मनसे ट्रैफिक विभाग के इस निर्णय के विरोध में 21 जुलाई को शाम 5 बजे सिद्धि विनायक मंदिर में हस्ताक्षर अभियान शुरू करेगी। यह हस्ताक्षर अभियान 22 जुलाई और 24 जुलाई को भी आयोजित किया जाएगा.


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 






संबंधित विषय
ताजा ख़बरें