क्या सहारवासियों से छिनेगा उनका रास्ता?

सहार- सहार गांव के गांवठाण पिछलें 100 साले से यही बसे है। लेकिन अब इस गांवठाणों पर खतरा मंडराता नजर आ रहा है। विमानतल के सुशोभिकरण के लिए इस बस्ती की एक छोटे से रास्ते पर अब प्रशासन की नजर है। इस कच्ची सड़क पर विमानतल के सुशोभिकरण करनेवाली कंपनी जेवीके गैरनकानूनी तरीके से इस कच्चे रास्ते पर कब्जा करना चाहती है। स्थानिय निवासियों का आरोप है की कंपनी इस जगह पर गैरकानूनी बांदकाम कर रही है। जिससे स्थानिय नागरिकों में आक्रोश व्याप्त है।

इस कच्चे रास्ते पर बांधकाम करने के लिए स्थानिय नागरिको को किसी भी तरह का कोई भी नोटीस नहीं दिया गया है। साथ ही किस आधार पर जीवीके को ये जमीन दी जा रही है इसकी भी जानकारी लोगों को नहीं दी गई है। अगल स्थानिय़ नागरिको की मांग पर जल्द ध्यान नहीं दिया गया तो सरकार और पब्लिक के बीच आक्रोश और भी बढ़ सकता है।

Loading Comments