video: क्रिकेट से संन्यास ले चुके अंबाती रायुडु ने लिया यू टर्न, फिर लौटेंगे मैदान में

रायडू को एक और झटका लगा जब चोटिल विजय शंकर की जगह ऋषभ पंत को लिया गया, फिर मयंक अग्रवाल को भी ले लिया गया। विश्व कप समाप्त होने से पहले ही अंबाती रायडू ने संन्यास की घोषणा कर दी।

  • video: क्रिकेट से संन्यास ले चुके अंबाती रायुडु ने लिया यू टर्न, फिर लौटेंगे मैदान में
SHARE

कहते हैं, बिना विचारे जो करे सो पाछे पछिताय, काम बिगारे आपनो जग में होत हँसाय। गिरिधर कविराय जी की यह पंक्तियाँ क्रिकेटर अंबाती रायुडू पर इस समय एकदम खरी उतरती है।

2019 के वर्ल्ड में भारतीय टीम में नहीं चुने जाने से नाराज होकर अंबाती रायुडू ने तीन जुलाई को संन्यास का ऐलान किया था।उनके इस फैसले ने सभी को चौंका दिया था। लेकिन रायडू के इस फैसले को अभी दो महीने भी नहीं हुए थे कि रायडू ने मैदान में फिर से लौटने की इच्छा जताई है. 33 साल के इस खिलाड़ी ने इस बाबत हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन को मेल भेजा है।

अंबाती रायुडू ने हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन एक मेल भेजा है जिमें उन्होंने लिखा है कि,"मैं खुद के बारे में इस बात की ओर आपका ध्यान खींचना चाहता हूं कि मैं संन्यास से वापस आ रहा हूं और तीनों फॉर्मेट में खेलने के लिए तैयार हूं।"

जिसके जवाब में एसोसिएशन ने कहा है कि रायुडू ने अपना संन्यास वापस ले लिया है और हमारे लिए 2019 -20 के सेशन में शॉर्ट फॉर्मेट में खेलेंगे।

दरअसल आईपीएल के कई मैचों में जिताऊ पारी खेलने वाले रायडू को यह विश्वास था कि 2019 के वर्ल्डकप में उन्हें जरुर चुना जायेगा, लेकिन जब 15 अप्रैल को टीम की घोषणा हुई, तब उन्हें अंतिम 15 में जगह नहीं दी गयी। यही नहीं मैच के दौरान ओपनर शिखर धवन के चोटिल होने के बाद उनकी जगह जब विजय शंकर को लाया गया तो रायडू नाराज हो गये।  

गुस्साए रायडू ने चयनकर्ताओं पर तंज कसा और ट्वीट करते हुए कहा कि, विजय शंकर 3D डायमेंशनल वाले प्लेयर हैं। और उन्हें ३डी वाला चश्मा चाहिए ताकि वे मैच देख सके।

इसके बाद रायडू को एक और झटका लगा जब चोटिल विजय शंकर की जगह ऋषभ पंत को लिया गया, फिर मयंक अग्रवाल को भी ले लिया गया। विश्व कप समाप्त होने से पहले ही अंबाती रायडू ने संन्यास की घोषणा कर दी। इस पर मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने कहा कि उन्होंने थ्रीडी चश्मा का पूरा मजा लिया।

लेकिन अब रायडू का ज्ञान चक्षु खुल गये हैं, वे अपने सन्यास वाले फैसले पर पछता रहे हैं। उन्होंने कहा है कि, 'उन्होंने सन्यास वाला फैसला भावनाओं में बह कर लिया था।लेकिन चेन्नई सुपरकिंग्स, वीवीएस लक्ष्मण और नोएल डेविड को धन्यवाद कहना चाहते हैं। क्योंकि इन सभी ने मुश्किल वक्त में मेरा समर्थन किया. इन सभी ने अहसास कराया कि मुझमें अभी काफी क्रिकेट बची है और मैं आगे खेल सकता हूं।’

इसमें कोई शक नहीं है कि रायडू एक शानदार प्लेयर है, विश्वकप में विजय शंकर को लिए जाने पर कई लोगों ने सवाल उठाया था। अंबाती रायडू ने 55 वनडे और 6 टी20 मैच खेले हैं। उन्होंने वनडे में तीन शतक और 10 अर्धशतक की मदद से 1694 रन बनाए हैं। उनका औसत 47.05 है, जो उनके अच्छे खेल को परिभाषित करता है। अब जब वे फिर से मैदान में उतर रहे हैं तो उनके लिए शुभकामनाएं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें