सिद्धिविनायक मंदिर के पूर्व ट्रस्टी के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप

स पूर्व ट्रस्टी की जांच करने की मांग करेंगे और इसके साथ ही इस पूर्व अधिकारी पर अपराधिक मामला भी दर्ज होना चाहिये

SHARE

दादर स्थित सिद्धिविनायक मंदिर में पुजारी के पैसे चोरी करते हुए एक वीडियो वायरल हुआ था। इस वीडियों के वायरल होने के बाद मंदिर प्रशासन ने कार्रवाई करने का भरोसा दिया था। तो वही सिद्धिविनायक मंदिर के एक पूर् ट्रस्टी के उपर ही भ्रष्टाचार के आरोप लगे है।सिद्धिविनाक मंदिर के एक्शन कमेटी के समन्वयक अजय संभुस और अन्य अधिकारी ने मीडिया से बात करते हुए कहा की वो इस पूर्व ट्रस्टी की जांच करने की मांग करेंगे और इसके साथ ही इस पूर्व अधिकारी पर अपराधिक मामला भी दर्ज होना चाहिये।


मुंबई से पुणे का सफर मात्र 20 मिनट में सरकार ने उठाया एक और कदम


क्या है मामला-

साल 2016 में मंदिर की जांच के बाद एक चौकानेवाली जानकारी सामने आई। 1 जनवरी 2015 से 31 अगसत् 2015 तक मंदिर के ट्रस्टियों ने जलयुक्त उपकरण और मेंडिकल उपकरणों की उपलब्धता के लिए अभ्यास दौरा किया जो की मंदिर के खर्च पर था, हालांकी मंदिर के नियम के अनुसार किसी भी ट्रस्टी को प्रवास का खर्च मंदिर से नहीं दिया जाता है। इस प्रवास के लिए 12 लाख 91 हजार रुपये खर्च हुए थे।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें