सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बचे वकील उज्ज्वल निकम।

उज्ज्वल निकम आतंकी अजमल कसाब को फांसी दिलवाने से लेकर, 1993 के बम धमाकों, गुलशन कुमार हत्याकांड और प्रमोद महाजन हत्याकांड मामले में सरकारी पक्ष रख चुके है।

SHARE

वरिष्ठ वकील उज्ज्वल निकम सोमवार को एक सड़क दुर्घटना में बाल-बाल बच गए। उनकी कार को पीछे से पुलिस के एक वाहन ने खंडाला घाट इलाके में पुणे-मुंबई एक्सप्रेसवे पर टक्कर मार दी। वकिल उज्जवल निकम तो इस हादसे में कुछ नहीं हुआ लेकिन पुलिस के गश्ती वाहन में सवार दो पुलिसकर्मियों को हल्की चोटें आई। यह घटना देर रात 8 बजे हुई, जिस दौरान निकम मुंबई आ रहे थे।

यह भी पढ़े - मुंबई से अपना इलाज करा पटना लौटे लालू प्रसाद यादव।

दो पुलिसकर्मियों को हल्की चोटें

रायगड के एक पुलिस अधिकारी के अनुसार पुलिस के गश्ती वाहन ने निकम की कार को पीछे से टक्कर मार दी। यह घटना तब हुई जब निकम के कार के चालक ने वाहन की गति को घाट की तरफ हुए एक अन्य दुर्घटना को देखते हुए कर दी थी। इस घटना में दो पुलिसकर्मियों को हल्की चोटें आई।

यह भी पढ़े - CDR केस: अभिनेता नवाजुद्दीन के भाई पूछताछ के लिए हुए पेश

कसाब को फांसी में अहम भूमिका

उज्ज्वल निकम देश के सबसे मशहूर सरकारी वकीलों में से हैं और आतंकी अजमल कसाब को फांसी दिलवाने से लेकर, 1993 के बम धमाकों, गुलशन कुमार हत्याकांड और प्रमोद महाजन हत्याकांड जैसे हाई प्रोफाइल मामलों में सरकारी पक्ष की पैरवी कर चुके हैं

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें