होटल में वेटर को डेबिट कार्ड देने से पहले सावधान

 Bandra west
होटल में वेटर को डेबिट कार्ड देने से पहले सावधान

बांद्रा पुलिस ने वेटर के एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है। जो ग्राहको से डेबिट कार्ड लेकर 'स्कीमर मशीन' में डालकर उनके कार्ड का डेटा चोरी करता था। और साथ ही कार्ड का पासवर्ड भी चुरा लेते थे। डेटा और पासवर्ड चोरी करने के बाद कार्ड की सारी जानकरी गिरोह के सरगना मुशर्रफ सय्यद (34) को सौप दी जाती थी।
इस चोरी कीए हुए डाटा का इस्तेमाल कर गिरोह का सरगना ग्राहको के एटीएम कार्ड से पैसे निकलता था।

वेटर्स को मिलता था कमिशन
मुशर्रफ हर एक स्वाईप के पीछे हर वेटर को 1 हजार रुपये देता था। वेटर इस तरह की धोखाधड़ी कर हर महिने 40 से 50 हजार कमा लेते थे।

1500 लोगों के साथ की घोखाधड़ी
मुशर्रफ के पास से बरामद डेटा के मुताबिक अभी तक इस गिरोह ने 1500 लोगों के साथ धोखाधड़ी की है।

क्या है स्कीमर मशीन ?
स्कीमर मशीन इतनी छोटी होती है की उसे हाथ में भी छुपाया जा सकता है। इस मशीन मे एक बार कार्ड स्वाईप करने के बाद कार्ड का सारा मैग्नेटिक डाटा मशीन में आ जाता है। जिसका फायदा उठाकर डेबिट कार्ड से पैसे निकाले जाते थे।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments