मरीज की देखभाल करने वाला ही मरीज का ATM कार्ड ले उड़ा, हुआ फरार

बॉम्बे अस्पताल में इलाज करवा रहे एक मरीज का एटीएम कार्ड उसकी ही देखभाल करने वाला लेकर भाग गया। इस मामले में आजाद मैदान पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू किया और आरोपी को गिरफ्तार किया।

SHARE

महंगाई के इस जमाने में लोग पैसे के लिए क्या-क्या नहीं करते। किसी का खून करने से लेकर चोरी ठगी तक कर देते हैं। मुंबई में इसी तरह से चोरी का एक मामला सामने आया है। बॉम्बे अस्पताल में इलाज करवा रहे एक मरीज का एटीएम कार्ड उसकी ही देखभाल करने वाला लेकर भाग गया। इस मामले में आजाद मैदान पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू किया और आरोपी को गिरफ्तार किया।

क्या है मामला?

घटना के मुताबिक़ बोरीवली में रहने वाले नील दांडेकर कुछ दिनों से बीमार चल रहा था। पिछले महीने वह 18 अप्रैल को बॉम्बे अस्पताल में दाखिल हुआ। अकेले होने के कारण नील को कोई देखभाल करने वाले और बाहर से सामान लाने वाले यानी एक केयर टेकर की जरूरत महसूस हुई। जब नील में यह बात अपने एक फ्रेंड को बताई तो फ्रेंड ने किसी प्रशांत काथे का नंबर दिया। नील ने फोन कर प्रशांत काथे को केयर टेकर के रूप में काम करने के लिए बुला लिया।

कुछ दिन काम करने के बाद एक दिन बाहर से कुछ सामान लाना था लेकिन नील के पास नगद रुपए नहीं थे इसीलिए नील ने प्रशांत को अपना एटीएम कार्ड और पिन नंबर दे दिया और सामान लाने के लिए बाहर भेज दिया। जब काफी देर होने के बाद भी प्रशांत नहीं लौटा तो नील ने प्रशांत को फोन किया,  प्रशांत ने कहा कि, वह पैसे निकालने के लिए काफी दूर आ गया है इसीलिए लौटने में देर होगी। लेकिन थोड़ी देर में ही प्रशांत ने अपना फोन बंद कर दिया। इसके बाद नील को यह समझते देर नहीं लगी कि प्रशांत ने उसके साथ धोखा किया है और उसका कार्ड लेकर फरार हो गया है। तत्काल नील ने अपना कार्ड ब्लॉक करवा दिया और प्रशांत के खिलाफ आजाद मैदान में शिकायत दर्ज करा दी।

प्रशांत की शिकायत के बाद पुलिस ने जांच शुरू की। जब उसके मोबाइल की लोकेशन सर्च की गयी तो कल्याण के करीब विट्ठलवाड़ी एरिया में दिखाई दी। जिसके बाद पुलिस ने जाल बिछा कर उसे गिरफ्तार कर लिया। अब पुलिस प्रशांत के खिलाफ आगे की कार्रवाई कर रही है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें