SHARE

देवनार डंपिंग ग्राउंड में लगातार आग लगने की घटनाओं को देखते हुए वहां जगह-जगह कई सीसीटीवी लगाए गए थे, ताकि अगर इस आग में किसी का हाथ हो तो उसे गिरफ्तार किया जा सके। लेकिन अब कुछ सीसीटीवी को चोरी कर लिया गया है, और इस चोरी के पीछे किसी गैंग के होने का कयास लगाए जा रहे हैं। स्थानीय लोगों के मन में अब बार फिर से आशंका जागृत हो रही है कि अब फिर से आग लगने की घटनाएं घट सकती हैं।

लगाए गए थे 40 कैमरे 
देवनार डंपिंग ग्राउंड में कई बार आग लग चुकी है। मार्च महीने में ही यहां दो बार आग लगी थी। यही नहीं यहां कचरे का पहाड़ खड़ा रहता है जब उसमें आग लगती है तो आग बुझाने के बाद भी कई दिनों तो धुआं निकलता रहता है। आग लगने से आसपास के इलाकों देवनार, मानखुर्द, गोवंडी और चेंबूर के कुछ इलाकों में धुएं से काफी लोगों को परेशानी होती है। लगातार और कई लोगों की शिकायत के बाद पुलिस प्रशासन ने वहां जगह-जगह 40 सीसीटीवी लगवा दिया ताकि आग लगने के पीछे अगर किसी गैंग का हाथ हो तो उन्हें पकड़ा जा सके।

चोरी हुए 5 कैमरे 
अब बताया जा रहा है कि सितंबर महीने में 40 में से 5 सीसीटीवी चोरी हो चुके हैं। सीसीटीवी के साथ साथ 25 बटन, 12 स्वीच, 10 नेटवर्क कंट्रोल पैनल भी चोरी हो गए हैं। यह भी बताया जा रहा है कि इस चोरी के पीछे इलाके में घूमने वाले गरदुल्लों का भी हाथ सकता है।

इस मामले में जोन 6 के उपायुक्त शहाजी उमाप ने बताया कि शिकायत के बाद शिवाजी नगर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें