SHARE

एलफिंस्टन रेलवे स्टेशन में हुए हादसे में 22 लोगों की मौत हो गयी और लगभग 32 लोग घायल हैं। अब इस दुर्घटना के लिए जहां एक तरफ रेलवे उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं तो वहीँ मुंबई पुलिस ने भी जांच कर रही है। हालांकि मुंबई पुलिस ने रेलवे के खिलाफ कोई केस न दर्ज करते हुए केवल एक्सीडेंटल डेथ के तहत मामला दर्ज किया है।

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता और डीसीपी दीपक देवराज ने बताया कि इस दादर पुलिस स्टेशन ने एक्सीडेंटल डेथ का मामला दर्ज किया है।

तो वहीँ पुलिस की इस कार्यशैली पर रेलवे एक्टिविस्ट समीर झवेरी ने सवाल उठाते हुए कहा कि इस हादसे में 22 लोगों ने अपने प्राण गवाएं हैं तो पुलिस इसे मात्र एक्सिडेंटल डेथ के तहत ही कैसे रजिस्टर्ड कर सकती है? उन्होंने आगे कहा कि इस मामले में रेलवे के जनरल मैनेजर, विभागीय जनरल मैनेजर और संबंधित सभी अधिकारीयों के खिलाफ हत्या का केस के तहत मुकदमा चलना चाहिए।

मुंबई पुलिस जिस तरह से रेलवे के खिलाफ नरमी बरत रही है उस पर सवाल उठना लाजमी है, आखिर ऐसा क्या कारण है कि मुंबई पुलिस इस मामले में हाथ डालने से डर रही है? स्कॉटलैंड यार्ड पुलिस ने अपनी तुलना करने वाली मुंबई पुलिस के इस रवैये से एक बार फिर से उसकी साख को बट्टा लग सकता है।  


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 



संबंधित विषय
ताजा ख़बरें