COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
58,76,087
Recovered:
56,08,753
Deaths:
1,03,748
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
15,122
660
Maharashtra
1,60,693
12,207

पत्नी की मौत कोरोना से होने पर पति ने बच्ची की हत्या कर खुद भी कर लिया सुसाइड

महिला की कोरोना से मौत होने पर उसके पति ने छह वर्षीय बेटी की हत्या कर दी और फिर खुद आत्महत्या कर लिया। मृतक की पहचान जितेंद्र बेडकर के रूप में हुई और लड़की की पहचान अर्पिता के रूप में हुई।

पत्नी की मौत कोरोना से होने पर पति ने बच्ची की हत्या कर खुद भी कर लिया सुसाइड
SHARES

कोरोना काल में बड़ी ही अप्रत्याशित घटनाएं देखने और सुनने को मिल रही है। इसी कड़ी में एक महिला की कोरोना से मौत होने पर उसके पति ने पहले तो अपनी ही छह वर्षीय बेटी की हत्या कर दी और फिर खुद आत्महत्या कर लिया।मृतक की पहचान जितेंद्र बेडकर के रूप में हुई और लड़की की पहचान अर्पिता के रूप में हुई।

घटना मुंबई के विले पार्ले की है। बताया जाता है कि पहले जितेंद्र अपनी पत्नी, बेटी, मां और भाई के साथ चारकोप इलाके में रहता था।

पिछले साल उसकी पत्नी मानवी का जून महिने में कोरोना के कारण निधन हो गया था। लेकिन उसकी एक छोटी बच्ची थी, जिसकी देखभाल करने के इरादे से जितेंद्र ने दिसंबर महीने में

दूसरी शादी कर ली। इसके बाद जितेंद्र और उसकी पत्नी ने विलेपार्ले इलाके में शिफ्ट होने का फैसला किया। इन्होंने एक घर भी देखा था, जिसके पुताई का काम चल रहा था।

बताया जाता है कि घटना वाले दिन जितेंद्र अपनी बच्ची को लेकर विलेपार्ले में घर का काम देखने के लिए आया हुआ था। लेकिन रात होने पर भी वह अपने चारकोप वाले घर नहीं पहुंचा।

इसके बाद परिजनों ने उसके मोबाइल पर संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन जितेंद्र से कोई संपर्क नहीं हो सका। यही नहीं घर वालों ने विलेपार्ले में पड़ोसियों को इस बात की खबर दी और घर जाकर देखने को कहा। पड़ोसियों ने जब घर गए तो दरवाजा अंदर से बंद था। पड़ोसियों द्वारा आवाज देने पर भी दरवाजा जब नहीं खोला गया तो किसी अनहोनी की आशंका से 

को देखते हुए जितेंद्र के परिवार वाले भी विले पार्ले पहुंच गए। जब उन्होंने दरवाजा तोड़ा, तो जितेंद्र फांसी पर लटका हुआ मिला, और वहीं पास में बच्ची की भी लाश पड़ी मिली, बच्ची का गला घोंटा गया था।

इस घटना की सूचना पाकर सांताक्रूज पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। घटनास्थल पर पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला, जिसे जितेंद्र द्वारा लिखा गया था। जितेंद्र ने लिखा था कि वह यह कदम हताशा से उठा रहा है।वह अपनी बच्ची को भी अपने साथ ले जा रहा है क्योंकि वह उसे अकेला नहीं छोड़ सकता। जितेंद्र ने अपने सुसाइड नोट में अपने इस कृत्य के लिए परिवार वालों से माफी भी मांगी है।

घर वालों का कहना है कि पहली पत्नी के गम में जितेंद्र ने यह कदम उठाया होगा।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें