फॉरेस्ट ऑफिसर गुंडा, युवक को रिवॉल्वर निकाल कर गोली मारने की धमकी

मुंबई के अंधेरी इलाके में रहने वाले एक फॉरेस्ट ऑफिसर का ऐसा वीडियो सामने आया है जिसे देखकर आप भी हैरान रह जाएंगे। ये साहब अपने ही पड़ोस में रहने वाले एक लड़के को रिवाल्वर दिखाकर जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। यही नहीं उन्होंने इस लड़के की जमकर पिटाई भी की। लेकिन शिकायतकर्ता ने इस पूरी घटना को अपने मोबाइल में कैद कर मुंबई पुलिस कमिश्नर और पीएम मोदी को जैसे ही उनके ट्वीटर हैंडल पर टैग किया। मुंबई पुलिस तुरंत एक्शन में आई और डीएन नगर पुलिस स्टेशन में फॉरेस्ट ऑफिसर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी। हालांकि अबतक गिरफ्तारी नहीं हुई है।

अंधेरी में रहने वाले फॉरेस्ट ऑफिसर राकेश सालुंखे ज़्यादा पैसे कमाने के लिए पार्ट टाइम इस्टेट एजेंट का भी काम करते हैं और पीड़ित शिकायकर्ता प्रदीप्तो संत्रा एनिमेशन फिल्म मेकर है। दरअसल राकेश सालुंखे और प्रदीप्तो आमने सामने की बिल्डिंग मे रहते हैं। प्रदीप्तो अपने दोस्तों के साथ किराये के फ्लैट में रहते थे जिसका एग्रीमेंट 5 अप्रैल को खत्म हो रहा है और वो दूसरे फ्लैट की तलाश कर रहे थे। जैसे ही सालुंखे को पता चला कि प्रदीप्तो को फ्लैट की ज़रूरत है उन्होंने प्रदीप्तो को फ्लैट दिखाने का ऑफर दिया और 2 फ्लैट भी दिखाए। लेकिन प्रदीप्तो और उनके साथी ने अपने पुराने मकान मालिक से सम्पर्क किया तो वो खुद ही उसी फ्लैट का अग्रीमेंट रेन्यु करने के लिए राजी हो गया। ऐसे में इन्होने सालुंखे समेत बाकी सारे एजेंट को बता दिया की उन्हें अब कोई फ्लैट नहीं देखना है और ना ही लेना है। फिर क्या था सालुंखे को ये बात रास नहीं आयी और डील नहीं होने के बावजूद 15 हज़ार रुपये ब्रोक्रेज का पैसा मांगने लगा। जिसे प्रदीप्तो और उनके साथियों ने देने से मना कर दिया। फिर क्या था सालुंखे का पारा सांतवे आसमान पर चढ़ गया और वो रिवॉल्वर निकालकर धमकी देने लगा।


31मार्च को जब सालुंखे ने प्रदीप्तो को अपने घर बुलाकर उसके साथ गाली गलौज, मारपीट और रिवॉल्वर से धमकी दी तो तो प्रदीप्तो ने पूरी घटना को अपने मोबाइल में कैद कर मुंबई पुलिस कमिश्नर और पीएम मोदी को उनके ट्वीटर हैंडल पर वीडियो टैग कर दिया जिसके बाद मुंबई पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते सालुंखे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करते हुए कार्रवाई की। लेकिन राकेश सालुंखे को अबतक गिरफ्तार नहीं किया गया है। मीडिया में वीडियो आने के बाद डीएननगर पुलिस ने केस तो दर्ज किया लेकिन जांच क्या की गयी इस बारे में वो बताने के लिये तैयार नहीं है ।

Loading Comments