ठाणे में हुए फल विक्रेता हत्या की गुत्थी सुलझी

 Kashimira
ठाणे में हुए फल विक्रेता हत्या की गुत्थी सुलझी

काशीमीरा पुलिस ने फल विक्रेता शामू लहुरी गौड़ हत्या मामले को सुलझाने का दावा किया है। इस मामले में ठाणे लोकल क्राइम ब्रांच की यूनिट ने चार आरोपियों को झारखंड से गिरफ्तार किया है। ठाणे जिले के काशीमीरा क्षेत्र में छह अप्रैल की रात करीब दो बजे दो बाइक सवारों ने फल विक्रेता शामू गौड़ की गोली मारकर हत्या कर दी थी। शामू उत्तर प्रदेश का रहने वाला था।

ठाणे ग्रामीण पोलिस अधीक्षक डॉ महेश पाटील ने बताया कि हत्या के बाद से पुलिस हत्या की गुत्थी सुलझाने में लगी हुई थी। काफी लोगो से पूछ ताछ व जांच पड़ताल के बाद पुलिस इस नतीजे पर पहुची कि मृतक शामू लहुरी गौड़ के पहचान वाला सुनील कुमार उर्फ राजू रजक ने पाच लाख में हत्या की सुपारी झारखंड में रहने वाले सुपारी किलर राजेश रविदास और उसके साथियों को दिया था। शामू लहुरी गौड़ की हत्या के बाद सभी आरोपी झारखंड फरार हो गए थे।

उन्होंने बताया कि मृतक शामू लहुरी गौड़ और मिरारोड़ के रहने वाले मुख्य आरोपी सुनील कुमार उर्फ राजू रजक में जान पहचान थी। आरोपी मृतक के घर आता जाता भी था। आरोपी पर अपनी पत्नी के हत्या का भी आरोप है। इसके साथ ही वह लड़कियों से देहव्यापार का धंधा भी करवाता था। दोनों में पैसे का लेन देन की वजह से हत्या हुई है, मगर साथ ही आरोपी की नजर मृतक की नाबालिक लड़की पर भी था, जिसको वह देहव्यापार के धंधे में धकेलना चाहता था, मगर उसके सामने अड़चन बना हुआ था, नाबालिक का पिता शामू लहुरी गौड़। उसे रास्ते से हटाने की नियत से भी सुपारी देकर हत्या कराई गई होगी इस तरह से भी पुलिस जांच कर रही है।

Loading Comments