बच्ची की ममता ने बुआ को पहुचाया दिया हवालात में

    Shivaji Nagar
    बच्ची की ममता ने बुआ को पहुचाया दिया हवालात में
    मुंबई  -  

    फ़ोटो में दिख रही इस ढाई साल की प्यारी बच्ची का नाम मायरा शेख है। दरअसल मायरा की बुआ यानी आबिदा शेख की एक भी बच्चे नही है इसी के चलते वो मायरा में ही अपने बच्चे को देखती हैं और जी जान से उसे प्यार भी करती है। 15 जून 2017 को आबिदा और मायरा की माँ हिना के बीच मायरा को लेकर जम कर लड़ाई हुई जो बात हिना को बर्दाश्त नही हुई। इसके बाद फिर क्या हिना ने अपना बक्सा उठाया और बच्ची को लेकर अपने मायके जो कि शिवाजी नगर में है वहां चली गयी।

    बच्ची की जुदाई आबिदा से सही गयी नही और वो शिवाजी नगर पहुच गई और बच्ची को अपने साथ लेकर वहां से निकल गयी इसके बाद मानो पूरे परिवार में हड़कंप सा मच गया। क्योंकि बच्ची मायके ना ही ससुराल पहुची थी चिंतित मा ने इस बात की शिकायत पुलिस को कर दी। बच्ची काफी छोटी थी इसके चलते पुलिस ने किडनेपिंग का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। दूसरे दिन ही पुलिस ने आबिदा को गिरफ्तार कर लिया पर उसके पास बच्चे का सुराग नही मिला जिसके बाद उसी दिन कोर्ट ने उसे जमानत पर रिहा भी कर दिया।
    लगातार 20 दिनों की जांच के बाद भी पुलिस को बच्ची नही मिल रही थी, और अचानक से 5 जुलाई को आबिदा बच्ची के साथ पुलिस स्टेशन आ गयी और उसे पुलिस को सौप दिया। जिसके बाद पुलिस को सारी सच्चाई का पता चलता है।

    दरअसल बच्ची को लेकर आबिदा 4 दिन तक थाने के एक लक्जरी होटल में थे छिपी हुई थी जहां उसने अपनी एक महिला रिस्तेदार को बच्ची के साथ रख छोड़ा था, और अपने घर मुम्ब्रा चली गयी थी जहां से उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। जमानत के बाद वो वापस उसी होटल 4 दिन बाद यानी 19 जून को आई और बच्ची के साथ माहिम दरगाह चली जाती है , जहां वो 5 जुलाई तक छुपी रहती है। चूंकि आबिद की उम्र 54 साल है और उसे ब्लड प्रेशर की समस्या भी है इस वजह से उसकी तबियत बिगड़ती नजर आने लगी जिसके बाद उसने अपने आपको पुलिस के हवाले कर दिया।

    हालात कुछ भी हुए हों पर किसी का इरादा गलत नही था आबिदा को ये भी आभास नही था कि ऐसा करना एक अपराध है जिसके चलते उसे एक रात पुलिस थाने में गुजारना पड़ा। पर जैसी हैप्पी एंडिंग ज्यादातर हर बॉलीवुड मूवी में होती है कुछ उसी तरह की एंडिंग यहां भी हुई,, परिवार के बीच का गुस्सा खत्म हो गया और सारा मामले इनलोगों ने कोर्ट के बाहर ही सुलझा लिया।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.