Advertisement

Mira road double murder case : 24 घंटे के अंदर सुलझी गुत्थी


Mira road double murder case : 24 घंटे के अंदर सुलझी गुत्थी
SHARES
Advertisement

मीरा रोड में हुए डबल मर्डर की गुत्थी पुलिस ने मात्र 24 घंटे के अंदर ही सुलझा ली। इस मामले में पुलिस ने आरोपी को पूना से गिरफ्तार किया। बता दें कि कल यानी शुक्रवार को मीरा रोड स्थित शबरी बार एंड रेस्टोरेंट के पानी की टंकी में से दो लोगों की डेडबॉडी मिली थी।

क्या है मामला?

इस मामले में पुलिस अधिक्षक शिवाजी राठौड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि, शबरी होटल के पानी की टंकी में से जिन दो लोगों की लाश मिली थी उनकी पहचान नरेश पंडित (52) और हरीश शेट्टी (48) के रूप में हुई थी। 

राठौड़ ने आगे बताया कि लॉकडाउन की वजह से होटल बंद होने के कारण यहां 3 लोग रहते थे। इन दोनों की लाश मिलने के बाद तीसरा शख्स फरार हो गया था। जब पुलिस ने जांच शुरू की तो उसकी लोकेशन पूना मिली, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

अधिकारी ने आगे बताया कि आरोपी का नाम कल्लू यादव(35) है। उसने पूछताछ में बताया कि होटल का मैनेजर हरीश शेट्टी उसे अच्छा खाना और पानी नहीं देता था जबकि अपना और नरेश पंडित दोनों मिलकर होटल का अच्छा खाना खाते थे। इस बात को लेकर उसने कई बार विरोध भी दर्ज कराया था, जिसके बाद उसे पंडित और शेट्टी मिलकर पिटाई करते थे।

के शीतल नगर के एमटीएनएल रोड स्तिथ शबरी बार एंड रेस्टोरेंट में लॉक डाउन के चलते होटल के मैनेजर और मोरी कामगार का मर्डर परसो राय हुआ था जिसकी गुत्थी मात्र 12 घण्टे में पुलिस ने सुलझाते हुए पूर्व में हत्या के जुर्म में पूना से अपराधी कल्लू यादव उम्र 35 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया उक्त अपराधी पर पूर्व में एक और हत्या,दारुबन्दी व अन्य मामले दर्ज है।

बस मौके की ताक में बैठे कल्लू यादव ने परसों आधी रात को सोते समय दोनों के सिर पर फावड़े से मारकर उनकी हत्या कर दी। और दोनों के शव को पानी की टंकी में डालकर फरार हो गया। आरोपी कल्लू भागते समय इन दोनो का मोबाइल फोन भी लेकर फरार हो गया था, जिसके आधार पर पुलिस ने कल्लू की लोकेशन ट्रेस की।

मामला सामने आने के बाद इसकी जानकारी कनकिया पुलिस स्टेशन को दी गई। मामला गंभीर देख इसकी जानकारी क्राइम ब्रांच को दे दी गई।

पुलीस ने यह भी बताया कि आरोपी कल्लू शातिर अपराधी है, जिसके खिलाफ़ कोलकाता में मर्डर का चार्ज है, वह जेल भी जा चुका है, साथ ही पूना में भी उसके खिलाफ केस दर्ज हैं।

पुलिस ने लोगों से अपील की है कि अगर कोई किसी काम के लिए किसी को रखता है तो पहले उसका पुलिस वेरिफिकेशन करा लें, या फिर उसकी पहचान और पता सुनिश्चित कर लें।


संबंधित विषय
Advertisement