ठगी के मामले में सनी हुआ गिरफ्तार

 Kandiwali
ठगी के मामले में सनी हुआ गिरफ्तार

अपने आप को पुलिस बताकर लोगों से वसूली कारने वाले एक शख्स को मुंबई की क्राइम ब्रांच 11 की टीम ने पकड़ा है। इस शख्स का नाम निशांत उर्फ़ सनी प्रवीण परमार (30) है। पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि इसके ऊपर एक दो नहीं बल्कि 40 केस दर्ज हैं। कई बार जेल की हवा खाने के बाद भी प्रवीण परमार जेल से बाहर निकलने के बाद फिर से नकली पुलिस बन कर लोगों को ठगने का काम शुरू कर देता था।

क्या है मामला

अगस्त महीने में मालाड के मालवानी में एक ठेकेदार को सनी ने अपने जाल में फंसाने की कोशिश की। सनी ने उसे फोन कर कहा कि वह पुणे क्राइम ब्रांच से इंस्पेक्टर गीते बोल रहा है, फोन पर सनी ने ठेकेदार को कहा कि वह उसके आदमी को एक पिस्तौल के साथ पकड़ा है और वह तुम्हारा नाम बता रहा है। तुम्हारी भी गिरफ्तारी हो सकती है, अगर इससे बचना चाहते हो तो पांच लाख रूपये देना पड़ेगा। ठेकेदार ने तुरंत इस मामले की शिकायत मालवानी पुलिस से कर दी।

सनी हुआ गिरफ्तार

जब पुलिस ने जांच शुरू की तो उन्होंने इस तरह से फोन करके पैसे की उगाही करने वाले सभी अपराधियों की जांच शुरू कर दी। उसी जांच में पुलिस को पता चला कि इसी मोडस अप्रेंडी में काम करने वाला एक अपराधी सनी कुछ दिन पहले ही जेल से छूटा है। बस फिर क्या था, पुलिस ने सनी की तलाश शुरू कर दी। कुछ दिन बाद पुलिस को पता चला कि सनी दहिसर चेकनाका पर घूम रहा है। पुलिस ने तुरंत जाकर उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में सनी ने फोन कर उगाही करने वाली बात कुबूल कर ली।

लोगों को इस तरह से फांसता था सनी

शुरुआत में सनी ज्वेलर्स व्यापारियों की जानकारी इकट्ठी करता था और खुद को पुलिस बता कर उन्हें धमकाता और उनसे उगाही करता था। अगर फोन करने से व्यापारी नहीं मानता था तो सनी लोकल पुलिस स्टेशन पर फोन करता और असली पुलिस वालों से कहता था कि किसी मामले में उक्त व्यापारी से बात करनी है वहां जाओ और मेरी बात कराओ। सनी की इस झूठी बात के झांसे में असली पुलिस वाले भी आ जाते थे।जब असली पुलिस वाला ज्वेलर्स की दूकान में जाता तो सनी व्यापरी से फोन पर ही अपनी सेटिंग कर लेता था।


इस तरह से सनी ने मुंबई, ठाणे सहित जलगांव मे भी कई व्यापारियों के साथ ठगी की थी। पिछले छह महीने से जेल से बाहर आने के बाद भी सनी ने फिर से अपना पुराना धंदा शुरू कर दिया था, और इस बार भी वह कानून के लंबे हाथ से नहीं बच पाया।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

 

 





Loading Comments