दो अलग-अलग घटनाओं में पति ने की पत्नी की हत्या, दूसरी घटना पढ़ कर आंख में आ जाएंगे आंसू

पहली घटना के मुताबिक एक पति ने पैसों के लिए अपनी पत्नी की हत्या कर दी तो दूसरी घटना के मुताबिक़

दो अलग-अलग घटनाओं में पति ने की पत्नी की हत्या, दूसरी घटना पढ़ कर आंख में आ जाएंगे आंसू
SHARES


मुंबई में 24 घंटे में दो महिलाओं की हत्या की घटना सामने आने से हड़कंप मच गया है। पहली घटना के मुताबिक एक पति ने पैसों के लिए अपनी पत्नी की हत्या कर दी तो दूसरी घटना में एक 67 वर्षीय कपड़ा व्यापारी ने अपनी बीमार बुजुर्ग पत्नी की हत्या कर दी और घर छोड़कर कहीं चला गया, ताकि वह किसी पर निर्भर न रहे।


पहली घटना :

पहली घटना विक्रोली इलाके की है, जहां एमा मेन्टोरो ने रोलांड मेन्टोरो के साथ साल 2017 में प्रेम विवाह किया था। लेकिन शादी के कुछ  महीने बाद ही रोलांड मेन्टोरो ने पैसों के लिए एमा मेन्टोरो को परेशान करना शुरू कर दिया। यही नहीं रोलांड हर दिन एमा से पैसों के लिए झगड़ा करता और नहीं मिलने पर उसके साथ मारपीट भी करता था। घटना वाले दिन भी रोलांड ने एमा के साथ झगड़ा किया और उसके साथ मारपीट किया। इस मारपीट में एमा के पेट में चोट लग गयी, जिससे एमा गिर गयी और दर्द के मारे तड़पने लगी। जब उसे डॉक्टर के पास ले जाया गया ले जाया गया तो डॉक्टरों ने बताया कि एमा के पेट के अंदर गहरी चोट लगने से उसे आंतरिक रक्त स्राव हुआ है। दुर्भाग्यवश इलाज के दौरान एमा की मौत हो गयी। इस मामले में एमा की मां ने रोलांड के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।  

दूसरी घटना:

सोमवार रात तकरीबन 10 बजकर 30 मिनट पर पड़ोस में रहने वाले एक शख्स ने पुलिस को इस बात की सूचना दी कि पवई के शिवशक्ति नगर की स्थानीय शीला लाड अपने घर का दरवाजा नहीं खोल रही है। जब पुलिस ने पहुंच कर दरवाजा तोड़ अंदर दाखिल हुई तो वहां शीला अचेत अवस्था में पड़ी हुई मिलीं। पुलिस के मुताबिक, 65 वर्षीय शीला के साथ मारपीट की गई थी और उनकी कलाई-गला रेत दिया गया था और  घर से महिला के पति अजित लाड गायब थे। पुलिस ने शीला को  अस्पताल लेकर पहुंचीं लेकिन डॉक्टरों ने शीला को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने जब शीला के घर की जांच की तो उसने एक पत्र मिला, जिसमें लिखा था कि, 'हम कर्ज में डूबे हैं और इस वजह से अपनी जिंदगी खत्म कर रहे हैं। मेरी पत्नी बीमार हैं और मैं उन्हें यूं ही नहीं छोड़ सकता क्योंकि मेरे बाद उनका ख्याल रखने वाला कोई नहीं है। हमारे इस कृत्य का कोई भी जिम्मेदार नहीं है।' पुलिस अभी तक अजित को पकड़ नहीं पाई है उसकी तलाश जारी है. पड़ोसियों का कहना है कि, लाड फैमिली में केवल शीला और उनके पति अजित ही रहते थे, उनकी कोई संतान भी नहीं थी। 

Read this story in मराठी
संबंधित विषय