नालासोपारा हथियार बरामदगी मामले में गिरफ्तार आरोपी के तार गौरी लंकेश से जुड़े

यह बात भी सामने आई कि सूर्यवंशी ने ही गौरी लंकेश के घर की रेकी करने के लिए प्रयोग किए गए वाहन को बीड़ में नष्ट किया था।

SHARE

नालासोपारा हथियार बरामदगी मामले गिरफ्तार वासुदेव सूर्यवंशी एटीएस के सामने नए नए राज खोल रहा है। सूर्यवंशी से पूछताछ के बाद एटीएस ने बताया कि तीन साल पहले ही इस साजिश की तैयारी शुरू कर दी गयी थी। यही नहीं इस मामले में सूर्यवंशी और भी आरोपियों के नाम बता सकता हैं।

मैकेनिक नाम से था मशहूर 
ATS ने आगे यह भी गौरी लंकेश मर्डर मामले में जितने भी लोग एक दूसरे के संपर्क में थे सभी सूर्यवंशी को मैकेनिक नाम से जानते थे। यही नहीं अमोल काले के घर से एटीएस को जो डायरी बरामद हुई उसमें भी मैकेनिक लिखा हुआ था। साथ ही यह बात भी सामने आई कि सूर्यवंशी ने ही गौरी लंकेश के घर की रेकी करने के लिए प्रयोग किए गए वाहन को बीड़ में नष्ट किया था।

शांत स्वाभाव का है सूर्यवंशी 
आपको बता दें कि एटीएस ने 6 सितम्बर को जलगांव के साकली इलाके से वासुदेव सूर्यवंशी को गिरफ्तार किया था और 7 सितंबर को लीलाधर लोधी को हिरासत में लिया था। सूर्यवंशी साकली में गैरेज चलाता है। बेहद ही शांत स्वभाव का सूर्यवंशी कुछ इस तरह की कुछ हरकत करेगा, इस पर गाँव वालों को अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है।

यह भी पढ़ें: नालासोपारा हथियार मामला: एक वेबसाइट की रिपोर्ट पर कांग्रेस ने फडणवीस सरकार पर उठाए सवाल

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें