दहेज़ के लोभियों ने ली एक और बलि

Dahisar
दहेज़ के लोभियों ने ली एक और बलि
दहेज़ के लोभियों ने ली एक और बलि
दहेज़ के लोभियों ने ली एक और बलि
दहेज़ के लोभियों ने ली एक और बलि
दहेज़ के लोभियों ने ली एक और बलि
See all
मुंबई  -  

सरकार द्वारा दहेज़ प्रथा विरोधी कानून बनाने के बावजूद भी दहेज़ प्रथा जैसी सामाजिक बुराई रुकने का नाम नहीं ले रही है। दहेज़ प्रथा से जुड़ी एक खबर दहिसर से सामने आई है। जिसमें एक 19 वर्षीय नवविवाहिता दहेज़ की बलि चढ़ गयी। इस मामले में पुलिस ने मृतक महिला के पति ,ससुर और देवर को गिरफ्तार किया है। जबकि तीन ननद फरार हैं जिन्हे पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक दहिसर के हनुमान टेकड़ी, काजूपाड़ा में रहने वाले प्रशांत की शादी 6 माह पूर्व सोलापुर में रहने वाली यशवंती (19) के साथ हुई थी।

लेकिन अचानक 31 मई को यशवंती ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इसकी सूचना मिलते ही दहिसर पुलिस तत्काल घटनास्थल पर पहुंचकर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने इसकी जानकारी मृतक की रिश्तेदार और सोलापुर में रहने वाले उसके पिता को दी। उसके पिता शिवाजी लोढ़े मुंबई आये।

पिता की शिकायत पर दहिसर पुलिस ने धारा 304,498(A) और 34 के तहत ससुर दशरथ फरड,पति प्रशांत फरड और देवर आकाश फरड को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि यशवंती के ननदो की पुलिस तलाश कर रही है।

इस मामले में मुंबई के बोरीवली पूर्व सुकरवाड़ी में रहने वाली यशवंती की मौसेरी बहन माधुरी ने बताया कि शादी के बाद से ही यशवंती के ससुराल वाले उसे काफी परेशान कर रहे थे। यशवंती से कई बार पैसों की भी माँग की गई। उसको काफी प्रताड़ित भी किया जा रहा था।

Loading Comments

संबंधित ख़बरें

© 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.