कांदिवली में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, महिला दलाल गिरफ्तार

रेस्क्यू कराई गयी तीनों लड़कियों को सुधार गृह भेजा गया। इनमें से दो लड़कियां मालाड के मालवणी इलाके की हैं, जबकि एक नालासोपारा की है।

SHARE

कांदिवली पुलिस ने एक सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए एक महिला दलाल को गिरफ्तार किया है, और 3 लड़कियों को रेस्क्यू किया है। रेस्क्यू कराई गयी तीनों  लड़कियों को सुधार गृह भेजा गया। इनमें से दो लड़कियां मालाड के मालवणी इलाके की हैं, जबकि एक नालासोपारा की है।

क्या था मामला?
मिली जानकारी के अनुसार कुछ दिन पहले कांदिवली के सीनियर इंस्पेक्टर चिमाजी आढाव को एक महिला दलाल द्वारा सोसायटी के एक फ़्लैट में सेक्स रैकेट चलाये जाने की गुप्त सूचना मिली। इसके बाद पुलिस की एक टीम ने उस महिला पर नजर रखना शुरू कर दिया। पुख्ता सबूत मिलने पर पुलिस ने अपना एक आदमी नकली ग्राहक बना कर महिला के पास भेजा। आदमी द्वारा सिग्नल मिलने के बाद पुलिस ने फ़्लैट पर छापा मारा और महिला दलाल को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार यहां से तीन लड़कियों को रेस्क्यू कराया गया। यह महिला दलाल ग्राहकों के मोबाइल पर लड़कियों की तस्वीर भेजा करती थी। ग्राहक सेट हो जाने पर ग्राहक को अपने घर पर बुलाया करती थी और वहीं पर देह व्यापार का काम कराती थी। बताया जाता है कि यह महिला हर ग्राहक को अलग-अलग समय पर बुलाती थी, वह हर ग्राहक से 3000 हजार रुपये लेती थी। इसमें से 50 प्रतिशत रकम वह खुद रखती थी, जबकि शेष 50 प्रतिशत लड़कियों को देती थी।

चौकानें वाली बात यह है कि महिला के घर पर उसका पति और एक बेटी भी है, जब पति काम पर और बेटी कॉलेज चली जाती थी तब यहां जिस्म फरोशी का काम शुरू हो जाता था। किसी को कुछ शक न हो इसीलिए इस महिला ने सोसायटी के वाचमैन और आसपास पड़ोस वालों को कहा था कि वह LIC का काम करती है इसीलिए लोग उससे मिलने के लिए आया करते हैं।

यही नहीं जो लड़कियां यहां आती थीं, उन्होंने अपने परिवार में बताया था कि वे जॉब करने जा रही हैं लेकिन इन लड़कियों की इस करतूत की खबर से अब परिजन सदमे में हैं। 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें