चोरी से आतंक मचाने वाला 'रिक्शा गैंग' पकड़ा गया

 Ville Parle
चोरी से आतंक मचाने वाला 'रिक्शा गैंग' पकड़ा गया

मुंबई के विलेपार्ले में पुलिस ने रिक्शा चालकों के एक ऐसे गिरोह को पकड़ा है जो रिक्शा का उपयोग चोरी के लिए करते थे। यह टोली बंद घरों में चोरी करती और चोरी का सामान रिक्शा में लाद कर भाग जाते थे। यह गैंग जब चोरी करने जाती तो इस गैंग के कुछ सदस्य घर के बाहर पहरा देते और कुछ सदस्य घर के अंदर चोरी करते थे। इस गैंग ने विलेपार्ले ही नहीं बल्कि पश्चिम उपनगर में आतंक मचा रखा था।

यह भी पढ़े : अय्याशी के लिए बने चोर!

मई महीने में इस टोली ने विलेपार्ले के एक घर में चोरी की घटना को अंजाम दिया था। इस टोली ने उस घर से कुछ ही मिनटों में लगभग सवा चार लाख रूपये लूट लिए थे जिनमें नगदी और गहने भी शामिल थे। चोरी की विलेपार्ले पुलिस स्टेशन में की गयी.

यह चोरी इतनी सफाई से की गई थी कि इन चोरो ने एक भी सबूत नहीं छोड़ा था। इस केस को सुलझाने के लिए पुलिस ने लगभग दस हजार मोबाइल का डेटा निकाला और एक एक कर सभी मोबाइल की डिटेल्स को खंगालना शुरू किया। इसी कड़ी में पुलिस को अपने खबरियों से यह सूचना मिली कि इस कांड के पीछे हिमांशु सोमैया और उसके गैंग के लोग शामिल हैं। जब पुलिस ने इसकी और गहराई से जांच शुरू की तो एक एक कर सारी सच्चाई परत दर परत खुलती चली गईं।

यह भी पढ़े : रक्षक ही बने भक्षक, हीरे लुटने के आरोप में दो पुलिस वाले गिरफ्तार

इस मामले में विलेपार्ले पुलिस ने हिमांशु सहित अयप्पा शेट्टीयार, दिनेश यादव और सुनील शेट्टी को गिरफ्तार किया है। एसीपी प्रकाश गव्हाणे ने बताया कि इस गैंग के पास से पुलिस ने साढ़े सात लाख रुपए के गहने भी बरामद किया है।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Loading Comments