राज को नोटिस, मनसे कार्यकर्ता ने खुद को आग लगा किया सुसाइड...?

कलवा के विटावा इलाके में रहने वाले प्रवीण चौगुले के बारे में पुलिस का कहना है कि प्रवीण चौगुले शराब का आदी था। इसके पहले भी वह 3 से 4 बार आत्महत्या का प्रयास कर चुका था।

SHARE

मुंबई से सटे ठाणे जिले में रहने वाले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के एक कार्यकर्ता ने खुद को आग लगा कर आत्महत्या कर ली। इस कार्यकर्ता का नाम प्रवीण चौगुले था। कयास लगाये जा रहे हैं कि ईडी द्वारा मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे को कोहिनूर जमीन मामले में नोटिस भेजे जाने के कारण नाराज था, इसिलिय उसने आत्महत्या कर ली। अब इस बात में कितनी सच्चाई है, या फिर आत्महत्या का कोई और कारण है इस बात की जांच पुलिस कर रही है।

क्या था मामला? 
इस बारे में ठाणे मनसे अध्यक्ष अविनाश जाधव ने एक विडियो सोशल मीडिया में पोस्ट किया है। उस विडियो में अविनाश बताते हैं कि जब से ईडी ने राज ठाकरे को नोटिस भेजा था तभी से ही प्रवीण चौगुले काफी परेशान था। यही नहीं उसने सोशल मीडिया में भी यह पोस्ट करके कहा था कि अगर ईडी का कोई भी अधिकारी कृष्णकुञ्ज (राज का निवास स्थान) पर गया तो वह खुद को आग लगा लेगा।साथ ही उसने इस पोस्ट को मनसे के कई बड़े नेताओं को टैग किया था, लेकिन रात को अचानक उसने खुद को आग लगा कर आत्महत्या कर ली।  प्रवीण चौगुले के भाई ने भी आशंका जताई है कि आत्महत्या का कारण राज ठाकरे वाला मामला हो सकता है।

पढ़ें: राज ठाकरे ने कार्यकर्ताओं से की अपील, ED के बाहर जमा न हों

कलवा के विटावा इलाके में रहने वाले प्रवीण चौगुले के बारे में पुलिस का कहना है कि प्रवीण चौगुले शराब का आदी था। इसके पहले भी वह 3 से 4 बार आत्महत्या का प्रयास कर चुका था।

कलवा पुलिस के मुताबिक पुलिस को इस आत्महत्या से संबधित कोई भी नोट नहीं मिला है। अब पुलिस इस बारे में आगे की जांच शुरू कर दी है।

आपको बता दें कि ईडी ने कोहिनूर जमीन मामले में राज ठाकरे को नोटिस भेजा है जिसका मनसे पुरजोर विरोध कर रही है।

पढ़ें: अगर राज ठाकरे की कोई गलती नहीं है तो उन्हें घबराने की कोई जरुरत नहीं है- मुख्यमंत्री

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें