बेटा नहीं होने पर चोरी किया हुआ बच्चा खरीदा, महिला पहुंची जेल

स एक साल के बच्चे को 8 महीना पहले कल्याण से किडनैप कर बेच दिया गया था। इस मामले में पुलिस ने एक महिला सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

SHARE

मुंबई से सटे ठाणे के कल्याण में पुलिस ने 8 महीना पहले चोरी हुए बच्चे को आखिर ढूढ़ निकाला और उसे सुरक्षित उसके मां-बाप के पास पहुंचाया। इस एक साल के बच्चे को 8 महीना पहले कल्याण से किडनैप कर बेच दिया गया था। इस मामले में पुलिस ने एक महिला सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है।

क्या है मामला?
बताया जाता है कि कल्याण के महराल गांव में 29 जून 2018 के दिन बच्चा घर के बरामदे में अपनी दादी के साथ सो रहा था। दादी जब जगी तो उसे बच्चा नहीं मिला। काफी खोजबीन के बाद जब बच्चा नहीं मिला तो पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गयी।पुलिस काफी खोजबीन के बाद भी कोई सुराख़ नहीं लगा सकी। इस दौरान बच्चे के पिताजी की मौत भी हो गयी।

लेकिन पुलिस ने हिम्मत नहीं हारी थी, गुप्त रूप से वह अपनी जांच शुरू किये हुई थी। आखिर पुलिस को इस मामले में स्थानीय निवासी सोमनाथ पवार (36) पर शक हुआ। जब पुलिस ने उस पर नजर रखी तो उसकी गतिविधि पुलिस को संदिग्ध लगी। आखिरकार पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर जब कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सारा सच उगल दिया।

पूछताछ में पवार ने पुलिस को बताया कई उसने ही बच्चा चोरी कर उसे सतारा जिला ले गया और उसकी ही एक रिश्तेदार महिला रेणुका पवार को बेच दिया। रेणुका को केवल तीन बेटियां हीं थीं उसे बेटा चाहिए था।

इसके बाद पुलिस ने सतारा जाकर रेणुका सहित बच्चे को अपने कब्जे में लिया। कोर्ट के आदेश के बाद इन दोनों आरोपियों को 11 मार्च तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें