सेना तैनात होने की झूठी अफवाह फैलाने वाला गिरफ्तार

जब से कोरोना महामारी सामने आई है तभी से ही सोशल मीडिया पर भी कोरोना से जुड़े कई संदेश बढ़ गए हैं, इसमें से कई संदेश ऐसे होते हैं जो झूठी होती हैं और जिनसे माहौल खराब होने का डर बना रहता है।

सेना तैनात होने की झूठी अफवाह फैलाने वाला गिरफ्तार
SHARES


कोरोना को फलने से रोकने के लिए देश भर में लॉकडाउन शुरू किया गया है।  डॉक्टर और पुलिस अपनी जान जोखिम में डालकर अपना कर्तव्य निभा रहे हैं।  लेकिन कुछ ऐसे भी असामाजिक तत्व हैं जो इस संकट की घड़ी में भी अफवाह फैला कर माहौल बिगाड़ने का काम कर रहे हैं। मुंबई पुलिस ने सोशल मीडिया पर एक अफवाह फैलाने वाले  एक शख्स को गिरफ्तार किया है। आरोपी का नाम सोहेल सलीम पंजाबी है।  सोहेल मुंबई के पठानवाड़ी में रहते हैं। इसने अपने सोशल मीडिया में इस बात की झूठी खबर फैलाई थी कि, मुंबई के कई इलाकों में सेना तैनात कर दी गयी है।

सोहेल ने डालने व्हाट्सएप से कई लोगों को एक वीडियो शेयर किया था।  इस वीडियो में इस बात की झूठी जानकारी दी गयी थी कि, पुलिस की जगह अब सेना ने ले ली है।  साथ ही यह भी बताया गया था कि, मुंबई के नल बाजार, भिंडी बाजार, डोंगरी, मदनपुरा, काला घोड़ा और सात रास्ता जैसे इलाकों में स्थिति काबू के बाहर हो गयी है।

वीडियो में कहा गया था कि, कई इलाकों में कोरोना महामारी के कारण स्थिति बेकाबू हो गयी है, जिसके बाद पुलिस को हटा कर सेना की मदद ली जा रही है।

जबकि हकीकत में किसी भी इलाके में ऐसी कोई स्थिति नहीं बनी थी।  सोहेल सलीम पंजाबी को मुंबई पुलिस ने इस वीडियो के आधार पर अफवाह फैलाने के आरोप में गिरफ्तार किया है।

आपको बता दें कि जब से कोरोना महामारी सामने आई है तभी से ही सोशल मीडिया पर भी कोरोना से जुड़े कई संदेश बढ़ गए हैं, इसमें से कई संदेश ऐसे होते हैं जो झूठी होती हैं और जिनसे माहौल खराब होने का डर बना रहता है। लोग पैनिक हो सकते हैं। इसीलिए समय समय पर पुलिस प्रशासन लोगों से अपील करती रहती है कि वे सोशल मीडिया में कोई पोस्ट या वीडियो न पोस्ट करें जो जूठे हो।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें