13 साल के बच्चे ने दुनिया से लिया वैराग्य, बना जैन मुनि


SHARE

ठाणे में रहने वाले दिलीप कुमार सांघवी के बेटे आदि कुमार संघवी ने जैन वैराग्य धारण कर लिया। खास बात यह है कि आदि कुमार संघवी अभी मात्र 13 साल का ही है और वह अपने माता पिता का इकलौता बेटा है। रईस परिवार से ताल्लुक रखने वाले आदि के पिता दिलीप ज्वेलर्स का कारोबार करते हैं।

मिल जानकारी के मुताबिक़ आदि ने यह दीक्षा अहमदाबाद में कालिकुंड तीर्थ स्थल पर ली। बताया जाता है कि आदि को बचपन से ही साधू सन्यासी और मुनियो की संगत में अच्छा लगता था। जब वह 6 साल के बच्चे थे तभी ही ठाणे के टेम्भी नाका स्थित जैन मंदिर में आने वाले संतों से सूत्र सीखने लगे थे। 

यही नहीं परिजनों के अनुसार आदि ने 7 साल की उम्र से ही अपने बालों को लोज करवाते थे मतलब बाल को काटने के बजाय उन्हें खींच कर निकलवाते थे। शुरू में आदि के घर वालों ने इस बात का काफी विरोध किया लेकिन उनकी आस्था और भक्ति के आगे घर वालों को झुकना ही पड़ा।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

YouTube वीडियो