भाऊ दाजी लाड संग्रहालय- एक सांस्कृतिक विरासत

मुंबई - भायखला जू का भाऊ दाजी लाड संग्रहालय मुंबई की 154 वर्ष पुरानी विरासत के साथ मुंबई का पहला संग्रहालय है। कुछ उत्साही लोगों के प्रयास से बॉम्बे के स्थानीय कारीगरों द्वारा भाऊ दाजी लाड और सर जॉर्ज बर्डवुड के शिल्प घर के लिए इस जगह को बनाया गया था। 15 वर्षों की मेहनत और 1,16,141 रुपये खर्च करने के बाद 1862 में विक्टोरिया गिल्बर्ट संग्रहालय के नाम से अस्तित्व में आया। 1975 में भाऊ दाजी लाड को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए इसे उनके नाम पर रख दिया गया। मुंबई के दिल में स्थित होने के बावजूद इस संग्रहालय से मुंबई के अधिकांश लोग अनजान बने रहे। देखभाल और धन की कमी के कारण इसकी हालत खराब हो रही थी और यह गिरने के कगार पर पहुंच गया था। 2000 में कला प्रेमी मुंबईवासी इस विरासत को बचाने के लिए एक साथ आए थे और बजाज फाउंडेशन द्वारा वित्त पोषित एक समिति द्वारा इसका कायाकल्प किया गया। इसे सांस्कृतिक संरक्षण के क्षेत्र में यूनेस्को 2005 का उत्कृष्टता पुरस्कार मिल चुका है। वर्तमान में इसकी देखभाल एक प्राइवेट ट्रस्ट और बीएमसी द्वारा की जाती है।

Loading Comments