कुंभ मेला बना सांस्कृतिक विरासत का प्रतिनिधि !

संयुक्त राष्ट्र के सांस्कृतिक निकाय की विश्व धरोहर समिति ने दक्षिण कोरिया के जेजू द्वीप पर हुए अपने 12वें सत्र में कुंभ मेला को इस सूची में रखने की मंजूरी दी।

SHARE

यूनेस्को ने कुंभ मेला को अपनी मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक विरासत(intangible cultural heritage of humanity) की प्रतिनिधि सूची में शामिल किया है। यूनेस्को गुरुवार को अपने ट्विटर अकाउंट पर इसकी जानकारी दी।   संयुक्त राष्ट्र के सांस्कृतिक निकाय की विश्व धरोहर समिति ने दक्षिण कोरिया के जेजू द्वीप पर हुए अपने 12वें सत्र में कुंभ मेला को इस सूची में रखने की मंजूरी दी।




दरअसल कुंभ मेला विश्व के उन बड़े आयोजनों मे से एक है जहां  बहुत बड़ी संख्या में श्रद्धालु एक त्रित होकर शान्तिपूर्ण ढंग से धार्मिक परम्पराओं का पालन करते हैं। यह आयोजन इलाहाबाद, नासिक, उज्जैन तथा हरिद्वार में होते हैं। संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने एक ट्वीट कर इस बात  खुशी जाहीर की।  

अखाड़ा परिषद ने जारी किया फर्जी बाबाओं का नाम !


इस सूची में योग और नवरोज को पहले ही जगह मिल चुकी है।कुंभ मेले को दुनिया के सबसे बड़े धार्मिक समागम के तौर पर समझा गया है।


संबंधित विषय
ताजा ख़बरें