नकली इंटिग्रेटेड कॉलेज में प्रवेश लेने से बचे विद्यार्थी

 Mumbai
नकली इंटिग्रेटेड कॉलेज में प्रवेश लेने से बचे विद्यार्थी

मुंबई के साथ साथ राज्य में इंटिग्रेटेड कॉलेज की संख्या बढ़ती ही जा रही है। जिसे देखते हुए अब इन स्कूलो ने भी मनमाने तरिके से फिस लेने की शुरुआत कर दी है। इस बाबत शिक्षण विभाग को कई तरह की शिकायतें मिली थी। जिसके बाद शिक्षण विभाग ने एक परिपत्रक जाहीर करते हुए अभिभावको से अपील की है की वह स्वय घोषित इंटिग्रेटेड कॉलेज में अपने बच्चों का दाखिला ना कराए और साथ ही अगर कोई इंटिग्रेटेड कॉलेज नियम से अधिक पैसे लेता है तो उसकी शिकायत करें।

शिक्षण विभाग ने साथ ही शिक्षक अधिकारियों को आदेश दिया है वह इंटिग्रेटेड कॉलेज की एक रिपोर्ट तैयार करे और उसे जल्द से जल्द जमा करें।

कोचिंग क्लासेस के जरिए इंटिग्रेटेड कॉलेज चलाए जाते है। प्रत्येक विद्यार्थी से इंटिग्रेटेड कॉलेजों में 2 से 3 लाख रुपये लिए जाते है। युवासेना ने इस बाबत शिकायत की थी। जिसपर शिक्षण विभाग ने कार्रवाई करते हुए ये परिपत्रक जाहीर किया है।

Loading Comments