शिक्षा विभाग का कारनामा: हेल्पलाइन नंबर यूपी के डॉक्टर का


SHARE

मुंबई सहित राज्यभर में 11वीं कक्षा के लिए ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया शुरू है। प्रवेश प्रक्रिया को लेकर कई छात्रों को प्रक्रिया की जानकारी कम होती होती है जिससे छात्रों को परेशानी होती है। छात्रों की इस परेशानी को कम करने के लिए शिक्षा विभाग ने कई हेल्पलाइन नंबर जारी किये हैं, जिससे छात्रों का मार्गदर्शन हो सके और उनकी परेशानी कम हो। लेकिन छात्रों की परेशानी कम करने के बजाय यह हेल्पलाइन नंबर ही परेशानी का सबब बने हुए हैं।

इस तरह है नंबरों की स्थिति 
शिक्षा विभाग की तरफ से छात्रों की सहायता के लिए जो नंबर जारी किये गए हैं उनकी स्थिति सुन कर आप भी अपना सिर पीट लेंगे। शिक्षा विभाग ने 11वीं की प्रवेश प्रक्रिया की पुस्तिका में कुल 34 नंबर जारी किये हैं। जिनमे से सात नंबर बंद आते हैं और एक नंबर गलत होने की सूचना सुनाई देती है। यही नहीं अंजुमनअंजूमन -ए- इस्लाम स्कूल का जो हेल्पलाइन नंबर है उसे मिलाने पर यूपी के किसी डॉक्टरों को फोन लगता है, यही नहीं यह डॉक्टर भी बच्चों को निराश नहीं करते हुए उनसे प्यार से बात करता है और रॉंग नंबर लगने की जानकारी देता है। इसके साथ ही एम.पी शाह कॉलेज का नंबर बंद आता है तो कांदिवली के भाटिया जूनियर कॉलेज का नंबर डाइवर्ट पर रखा गया है, जबकि ठाणे के स्कूलों की हेल्पलाइन नंबर लगातार बंद आ रहे हैं। इसी तरह से उल्हासनगर, नवी मुंबई के ऐरोली, कामोठे परिसर के स्कूलों के नंबर भी बंद सुनाई देते हैं।

इस बारे में शिक्षा विभाग के उपसंचालक राजेंद्र अहिरे ने बग्ताया कि प्रवेश पुस्तिका में दिए गए कुछ हेल्पलाइन नंबर गलत हैं, जिन्हे वेबसाईट पर सुधार दिया गया है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें