Advertisement

कक्षा एक से लेकर 12वीं तक के सिलेबस में होगी 25 फीसदी की कटौती

राज्य में कोरोना (covid19) से पैदा हुए हालात को देखते हुए महाराष्ट्र राज्य शिक्षा बोर्ड ने स्कूली पाठ्यक्रम को कम करने के फैसले की घोषणा की है।

कक्षा एक से लेकर 12वीं तक के सिलेबस में होगी 25 फीसदी की कटौती
SHARES

महाराष्ट्र (Maharashtra) के शिक्षा विभाग (education department) ने पिछले साल की तरह इस साल भी स्कूली पाठ्यक्रम में 25 फीसदी की कमी करने का फैसला किया गया है। राज्य में कोरोना (covid19) से पैदा हुए हालात को देखते हुए महाराष्ट्र राज्य शिक्षा बोर्ड ने स्कूली पाठ्यक्रम को कम करने के फैसले की घोषणा की है।

कोरोना संकट के चलते देश में स्कूल बंद होने के बावजूद ऑनलाइन पढ़ाई (online study) जारी है। राज्य में ऑनलाइन शिक्षा भी शुरू की गई है।ऑनलाइन शिक्षा की सीमाओं के कारण पिछले साल पाठ्यक्रम में 25 प्रतिशत की कमी की गई थी।

कोरोना की दूसरी लहर के आने के साथ ही इस साल भी शैक्षणिक वर्ष ऑनलाइन शुरू किया गया है। कई शिक्षक संघों और प्रधानाध्यापकों ने ऑनलाइन पढ़ाने के लिए स्कूल शिक्षा मंत्री प्रोफेसर वर्षा गायकवाड (varsha gaikwad) से स्कूली पाठ्यक्रम में 25 प्रतिशत की कटौती की मांग की थी।

यह निर्णय छात्रों के हित के साथ-साथ शिक्षक और अभिभावक संघ की मांग को ध्यान में रखते हुए लिया गया है।

शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने ट्विटर पर कहा कि सभी संबंधितों के साथ चर्चा के बाद और कोरोना के स्वास्थ्य राज्याभिषेक को देखते हुए शैक्षणिक वर्ष 2021-22 के लिए कक्षा एक से बारहवीं तक के पाठ्यक्रम को पिछले वर्ष की तरह 25 प्रतिशत कम करने का निर्णय लिया गया है।

गायकवाड़ ने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए निर्णय लिया गया कि पाठ्यक्रम समय पर पूरा हो और छात्र तनाव मुक्त वातावरण में अपने सीखने के उद्देश्यों को प्राप्त करने में सक्षम हों।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें