फेसबुक का ऐसा भी उपयोग...

मुंबई - सीखो, एक होकर लड़ो इस तरह का मूलमंत्र डॉ. बाबासाहेब अंबेडकर ने देश को दिया था। आंबेडकर के इस मूलमंत्र को युवा पीढ़ी आगे ले जा रही है और वह भी फेसबुक के माध्यम से। फेसबुक ज्यादातर लोगों के लिए सिर्फ और सिर्फ टाइम पास का जरिया होता है। पर आंबेडकर राईट्स मूवमेन्ट नाम की संस्था ने इस परिभाषा को पलटकर रख दिया है। इस संस्था ने दिखाया है कि फेसबुक के माध्यम से समाजिक कार्यों को भी अंजाम दिया जा सकता है। महापरिनिर्वाण दिवस पर अनुयायियों से हार फूल लाने की अपेक्षा एक नोटबुक और एक पेन लाने की अपील इस संस्था ने की थी। फेसबुक के माध्यम से इनके द्वारा की गई इस अपील को अच्छा खासा प्रतिसाद मिला।

Loading Comments