बीएमसी स्कूलों में घट रही छात्रों की संख्या

प्रजा फाउंडेशन द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है की बीएमसी स्कूलों में छात्र नामांकन की संख्या में 24 प्रतिशत की गिरावट आई है।

SHARE

प्रजा फाउंडेशन की रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई के बीएमसी स्कूलों में छात्र नामांकन की संख्या में 24 प्रतिशत की गिरावट आई है। 2013-14 में जहां 4,04,251 छात्रों का प्रवेश हुआ था तो वही 2017-18 में यह संख्या गिरकर 3,11,663 हो गई है। प्रजा फाउंडेशन की रिपोर्ट के अनुसार साल 2027-28 तक बीएमसी स्कूलों में कोई छात्र नहीं बचेगा।

नगरसेवक नहीं आते स्कूलों की मिटींग में

रिपोर्ट ने स्कूल प्रबंधन की बैठकों में बीएमसी पार्षदों की अनुपस्थिति को इन स्कूलों की खराब स्थिति के प्रमुख कारणों में से एक माना है। रिपोर्ट के अनुसार, नगरसेवक 2016-17 और 2017-18 में क्रमशः 85 और 83 प्रतिशत से अधिक स्कूलों की बैठक में भी शामिल नहीं हुए है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 229 स्कूल को नामांकन या फिर छात्र स्थानांतरण के कारण पिछले 10 वर्षों में पहले ही बंद हो चुके हैं, जिनमें से 48 प्रतिशत से अधिक मराठी माध्यम के स्कूल और 39.7 प्रतिशत अन्य भाषा के स्कूल है। हालांकी बीएमसी ने साल 2013-14 के 1,540 करोड़ रुपये शिक्षा के लिए रखे थे तो वही साल 2017-18 में 2,094 करोड़ रुपये बीएमसी स्कूलों के लिए रखे है।

यह भी पढ़ेमुंबई-जबलपुर गरीब रथ का समय बदला

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें