Advertisement

गांधीगिरी के जरिये किया विरोध


गांधीगिरी के जरिये किया विरोध
SHARES

चर्चगेट - वैसे तो हर छात्र अपने गुरु को गुलाब भेंट करते हैं लेकिन विश्व महिला दिवस के अवसर पर एसएनडीटी विश्वविद्यालय के भारत विद्यार्थी ने वाइस चांसलर को एक तालिबानी फरमान के विरोध में गुलाब का फूल भेंट दिया। कुछ दिन पहले एसएनडीटी विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर ने एक फरमान जारी कर सभी छात्रों को ड्रेसकोड में आने का आदेश दिया था। इस आदेश का काफी विरोध भी हुआ था। इस विश्वविद्यालय की अध्यक्षा चिंगारी ने कहा कि आज के ज़माने में इस तरह का आदेश देना यह मानसिक रूप से पिछड़ेपन और तालिबानी मानसिकता को दर्शंता है।
गौरतलब है कि 6 दिसंबर को एसएनडीटी महिला विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर ने सभी लड़कियों के लिए ड्रेसकोड लागू कर दिया था। इस विरोध के फलस्वरूप शिष्टमंडल की बैठक में लिखित में सूचना देने की बात कही थी लेकिन अभी तक एक भी पत्र या लिखित घोषणा जारी नहीं किया गया है।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें