Advertisement

मनोज बाजपेयी और शबाना रजा बाजपेयी ने किया श्रमिक सम्मान का समर्थन

ये पहल एक स्थानीय, पारंपरिक और स्थायी जीवनशैली को बढ़ावा देती है ताकि एक हराभरा राष्ट्र और बेहतर दुनिया बनाई जा सके।

मनोज बाजपेयी और शबाना रजा बाजपेयी ने किया श्रमिक सम्मान का समर्थन
SHARES

रिवर्स माइग्रेशन के कारण आर्थिक संकट को संबोधित करते हुए हल्पिंग हैंड चैरिटेबल ट्रस्ट  ने श्रमिक सम्मान नामक पहल की शुरुआत की है जिसके तहत वे लॉक डॉउन पीरियड के बाद वे उन प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगार उत्पन्न करेंगे जो इस संकट के दौर में अपने घर लौट चुके हैं। इनका उद्देश्य भारतीय राज्यों के स्थानीय गांवों और कस्बों के भीतर अल्प वयस्क और छोटे पैमाने पर कारोबार उत्पन्न करना । पब्लिक फिगर होने के नाते आजीविका जेनरेट करने वाले इस कल्याणकारी कार्य कोअभिनेता मनोज बाजपेयी और शबाना रजा बाजपेयी इस कार्य को लीड करेंगे।

ये पहल एक स्थानीय, पारंपरिक और स्थायी जीवनशैली को बढ़ावा देती है ताकि एक हराभरा राष्ट्र और बेहतर दुनिया बनाई जा सके। एचएचसीटी का लक्ष्य है कि 74 वे स्वतंत्रता दिवस पर वे प्रभावित राज्यों में 74 परियोजनाओं के माध्यम से स्थानीय एकजुटता को मजबूत करे।

यह भी पढ़ें: 'AU' नाम के संदिग्ध कॉल को लेकर रिया की तरफ से आई सफाई

मनोज बाजपेयी का मानना है कि " मैं श्रमिक सम्मान का समर्थन करता हूं, प्रवासी मजदूरों की आजीविका कल्याण के लिए एचएचसीटी(HHCT) ने जो काम किया है वह बहुत सराहनीय है। इसलिए उनके साथ जुड़कर मैं बेहद खुश हूं।यह पहल समय की जरूरत है और मैं लोगो से निवेदन करता हूं कि वे आगे बढ़कर इस पहल का समर्थन करें और डोनेशन करें।

शबाना रजा बाजपेयी का मानना है कि " श्रमिक सम्मान को लॉन्च कर हेल्पिंग हैंड चैरिटेबल ट्रस्ट ने बहुत ही काबिले तारीफ काम किया है।दुर्भाग्य से, हमारे प्रवासी मजदूर भाइयों और बहनों की समस्याएं घर लौटने से समाप्त नहीं हुई हैं।यह जानकर एक बड़ी राहत मिलती है कि इस पहल का उद्देश्य जमीनी स्तर पर इन मुद्दों को हल करना है। मैं इस तरह की पहल का हिस्सा बनकर सम्मानित महसूस कर रही हूं। ”

यह भी पढ़ें: विश्व हिंदू परिषद ने फ़िल्म सड़क -2 को लेकर जताया विरोध

संबंधित विषय
Advertisement