सुपरस्टार महेश बाबू की 'सरिलरु नीकेवरु' ने छोटे पर्दे पर 23.4 टीवीआर स्कोर के साथ तोड़ा रिकॉर्ड

फ़िल्म सरिलरु नीकेवरु को हाल ही में उगाड़ी के अवसर पर जेमिनी टीवी पर टेलीकास्ट किया गया था जहाँ फिल्म ने रिकॉर्ड तोड़ टीआरपी हासिल की है जो किसी भी तेलुगु फिल्म के लिए सबसे ज्यादा है।

सुपरस्टार महेश बाबू की 'सरिलरु नीकेवरु' ने छोटे पर्दे पर 23.4 टीवीआर स्कोर के साथ तोड़ा रिकॉर्ड
SHARES

इसमें कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि महेश बाबू के प्रशंसकों की संख्या अपराजेय हैं और हर बीतते दिन के साथ इसमें इज़ाफ़ा हो रहा हैं। सुपरस्टार की नवीनतम रिलीज़ 'सरिलरु नीकेवरु' के साथ महेश बाबू ने अपनी हिट की हैट्रिक पूरी कर ली है। निस्संदेह, महेश बाबू सीमाओं और भौगोलिक क्षेत्रों से परे सबसे बड़े और सबसे सफल पैन-इंडिया स्टार हैं।

फ़िल्म सरिलरु नीकेवरु को हाल ही में उगाड़ी के अवसर पर जेमिनी टीवी पर टेलीकास्ट किया गया था जहाँ फिल्म ने रिकॉर्ड तोड़ टीआरपी हासिल की है जो किसी भी तेलुगु फिल्म के लिए सबसे ज्यादा है। फिल्म को 23.4 टीवीआर स्कोर मिला है जो बाहुबली: द कॉनकलुझन और बाहुबली: द बिगिनिंग की तुलना में बहुत बड़ा है जिन्हें क्रमश 22.70 टीवीआर और 21.84 टीवीआर का स्कोर मिला था। यह रेटिंग इस बात को साबित करने के लिए काफ़ी है कि दर्शक अपने चहेते सुपरस्टार को ऑन-स्क्रीन देखने का मौका कभी अपने हाथ से जाने नहीं देते है।

नई रेटिंग प्रणाली पेश किए जाने के बाद, यह तेलुगु टीवी की अब तक सबसे बड़ी रेटिंग है। बाहुबली की फिल्मों द्वारा भी इतनी बड़ी संख्या हासिल नहीं की गयी थी। कहना गलत नहीं होगा कि महेश बाबू की व्यापक अपील के कारण फिल्म को अब तक की सबसे अधिक टीआरपी मिली है!

फ़िल्म की दिलचस्प कहानी ने दर्शकों का ध्यान अपनी तरफ़ आकर्षित कर लिया है और महेश बाबू द्वारा निबंधित एक सेना अधिकारी की भूमिका को बेहद सरहाया जा रहा है। वही, फ़िल्म की इंटेंस डायलॉग डिलीवरी ने सभी के रोंगटे खड़े कर दिए थे।

दमदार एक्शन सीक्वेंस फिल्म का मुख्य आकर्षण था। वही, कॉमेडी की खुराक ने फिल्म को प्यार, एक्शन, कॉमेडी और ड्रामा का सही कॉम्बिनेशन बना दिया है।

महेश बाबू ने फ़िल्म में मेजर अजय कृष्ण की भूमिका निभाई है, जो कश्मीर में भारतीय सेना की सेवा करने वाला एक अनाथ हैं। उनके सहयोगी, जिसका नाम भी अजय है, एक मिशन में घायल हो जाता है और उसे अजय की माँ भारती को खबर देने के लिए कुरनूल जाना पड़ता है। सफ़र के दौरान, उनकी मुलाकात संस्कृति से होती है, और साथ ही विधायक नागेंद्र के साथ एक झगड़े में शामिल हो जाते है। कैसे वह इन सभी समस्याओं को हल करते है, इसी पर फ़िल्म की कहानी बुनती है।

टीआरपी रेटिंग्स की बात करें तो, सरिलरु नीकेवारु सूची में सबसे ऊपर है। महेश बाबू ने सरिल्लु नीकेवरु के साथ एक बार फिर छोटे पर्दे पर भी अपना जादू साबित कर दिया है। यह एक्शन एंटरटेनर अनिल रविपुदी और विजयशांति द्वारा निर्देशित है, वही म्यूजिक देवी श्री प्रसाद द्वारा रचित है। महेश बाबू और दिल राजू ने संयुक्त रूप से सरिलरु नीकेवरु का निर्माण किया है।

संबंधित विषय