SHARE

लालबाग राजा के दर्शन के दौरान हुई पुलिस और लालबाग के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प को लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। इस जांच की रिपोर्ट आने के बाद दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी। आपको बता दें कि इस झड़प के बाद सीनियर अधिकारी ने जांच के आदेश दिए थे।

क्या था मामला?
आपको बता दें कि मंगलवार को दर्शन के लिए एक श्रद्धालू आया था जो स्थानीय कार्यकर्ताओं के एक सदस्य का पहचान वाला था। उस कार्यकर्ता ने अपने पहचान वाले को लाइन में से निकाल कर उसे आगे करने लगा जिसका मौके पर डिप्टी पुलिस कमिश्नर अभिनाश कुमार ने विरोध किया। इससे कार्यकर्ता और पुलिस अधिकारी के बीच बहस होने लगी। इतने में और पुलिस वाले और कार्यकर्त्ता आ गए जिनके बीच भी धक्कामुक्की और झड़प हुई। बाद में अन्य लोगों के दखल के बाद मामला शांत हो गया।

प्रशासन ने दिया जांच का आदेश 
इस मामले को संज्ञान में लते हुए प्रशासन ने दखल दिया और जांच के आदेश दिए. पुलिस अधिकारी ने बताया कि जांच के बाद जो रिपोर्ट पेश होगी उसके बाद दोषियों पर कार्रवाई की जायेगी।

कब सुधरेंगे कार्यकर्ता?
आपको बता दें कि लालबाग के राजा में तैनात कार्यकर्ताओं द्वारा दादागिरी करने का यह कोई पहला मामला सामने नहीं आया है, पिछले साल भी एक महिला पुलिस कर्मचारी के साथ कुछ कार्यकर्ताओं ने झगड़ा किया था। साथ ही भक्तों के साथ तोआये दिन धक्कामुक्की करने की खबरें आती हैं।

पढ़ें: लालबाग राजा के दरबार में पुलिस और मंडल कार्यकर्ताओं में धक्कामुक्की

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें