SHARE

'लालबाग के राजा' मंडल की तरफ से  एक आधिकारिक बयान में कहा है कि बप्पा के चरण दर्शन बुधवार 11 सितंबर को सुबह 6:00 बजे तक ही श्रद्धालुओं के लिए खुला रहेगा। उन्होंने आगे कहा है कि 11 सितंबर की आधी रात को मुख दर्शन बंद कर दिया जाएगा।

आपको बता दें कि गणेश चतुर्थी के अवसर पर लालबागचा राजा के दर्शन करने के ;लिए लोग काफी दूर-दूर से आते हैं. यहां आम लोग के अलावा बड़ी बड़ी हस्तियाँ बप्पा के चरणों में अपना सिर झुकाती हैं। इस वर्ष लालबागचा राजा का थीम चंद्रयान 2 पर आधारित था, और इसने अपने भक्तों को मंत्रमुग्ध कर दिया। गणेश चतुर्थी 2 सितंबर को शुरू हुई थी जबकि विसर्जन  गुरुवार यानी 11 सितंबर को होना है।

 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें