Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
53,44,063
Recovered:
47,67,053
Deaths:
80,512
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
36,674
1,447
Maharashtra
4,94,032
34,848

Ganesh Utsav 2020 : विघ्नहर्ता के उत्सव में कोरोना ने डाला विघ्न

उद्धव ने यह फैसला लेने से पहले सभी बड़े गणेश मंडलों के साथ चर्चा की। फिर उन्होंने पुलिस के साथ इस मामले पर चर्चा की थी।

Ganesh Utsav 2020 : विघ्नहर्ता के उत्सव में कोरोना ने डाला विघ्न
SHARES

कोरोना वायरस (Coronavirus) का असर अब त्योंहारों पर भी पड़ता दिख रहा है। कोरोना के कारण महाराष्ट्र के बड़े त्योंहारों (festival of maharashtra) में से एक दहीहांडी उत्सव (dahihandi festival) को कई मशहूर दहीहांडी आयोजकों ने इस बार रद्द करने का फैसला किया है। अब महाराष्ट्र का सबसे बड़े त्योंहार गणेशोत्सव (festival of lord ganesha) का रंग भी फीका पड़ता दिखाई दे रहा है। इस बार महाराष्ट्र में गणेशोत्सव मनाया तो जाएगा लेकिन कई पाबंदियों के साथ।

सूबे के मुख्यमंत्री उद्वव ठाकरे (uddhav thackeray) ने कोरोना वायरस को देखते हुए छोटे बड़े सभी मंडलों से सादगी से त्योंहार मनाने की अपील की है। उन्होंने इस बार गणेश मूर्ति की ऊंचाई 4 फ़ीट से अधिक नहीं रखने की अपील की है। 

उद्धव ने कहा, महत्वपूर्ण बात यह है कि मूर्ति नहीं भक्ति बड़ी होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि 'कोरोना' ने हर क्षेत्र में संकट पैदा किया है। धर्म, परंपरा और संस्कृति भी इस संकट से बच नहीं पाए हैं। भीड़ से बचने के लिए देश भर में सभी पूजा स्थलों को बंद कर दिया गया है। आज इस आकस्मिक घटनाओं को रोकने के लिए भीड़ से बचने के अलावा और कोई रास्ता नहीं है।

उन्होंने सोशल मीडिया के जरिये संबोधित करते हुए कहा, मैंने मुंबई सहित महाराष्ट्र में सार्वजनिक गणेश मंडलों के साथ चर्चा की। इसे अनुशासन और सामाजिक चेतना के साथ मनाने पर सहमति हुई।  गणराया का आगमन घर के साथ-साथ सार्वजनिक उत्सव मंडपों में भी होगा।  जब गणराया आएंगे तो वे महाराष्ट्र के लिए आशीर्वाद और सुरक्षा भी साथ लाएंगे। लेकिन मंडप में इस बार भव्य मूर्ति के बजाय केवल 4 फीट तक की मूर्ति स्थापित की जानी चाहिए।

ठाकरे ने आगे कहा, बड़ी मूर्तियों के आगमन और विसर्जन के लिए अधिक कार्यकर्ताओं की आवश्यकता होती है। इससे बचना है। अंत में, भक्ति महत्वपूर्ण है, न कि मूर्ति की ऊंचाई। उन्होंने आगे कहा, मंडप में भीड़ कम से कम हो, सभी लोग सोशल डिस्टेंस का पालन करें।

उद्धव ने यह फैसला लेने से पहले सभी बड़े गणेश मंडलों के साथ चर्चा की।  फिर उन्होंने पुलिस के साथ इस मामले पर चर्चा की थी।

इस बारे में मुंबईचा राजा मंडल के सेक्रेटरी स्वप्निल परब का कहना है, प्रशासन के निर्देशों के मद्देनजर हमने इस बार गणेशोत्सव सादगी से मनाने का फैसला किया है। मूर्ति की ऊंचाई सिर्फ चार फुट रखी जाएगी और इसका विसर्जन भी समंदर की जगह कृत्रिम तालाब में किया जाएगा।

इसके पहले शिवसेना के MLA प्रताप सरनायक ने कोरोना को देखते हुए दही हांडी के आयोजन को कैंसिल करने का निर्णय लिया है। सीएम राहत कोष में एक करोड़ रुपए का दान देने का निर्णय लिया है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें