इस साल ढाई दिन गणेश मूर्तियों में 4 हजार की कमी


SHARE

हर साल मुंबई में गणपति बाप्पा को बड़े ही धूम धाम से विराजमान किया जाता है और साथ ही बाप्पा के विसर्जन के दिन भी भक्त बाप्पा को ढोल नगाड़ों के साथ विदा करते है। लेकिन इस साल मुंबई में ढाई दिन बैठनेवाली गणपतियों की संख्या में कमी आई है। ढाई दिन की गणपति बैठाने के मामले में पिछलें साल की तुलना में इस लास लगभग 4000 मुर्तियों की कमी आई है। हालांकी पिछलें साल की तुलना में इस साल 8 से 10 फिसदी ज्यादा गणपति बाप्पा की मुर्तियों को विराजित किया गया है।

क्या है मुर्तियों की संख्या

पिछले साल ढाई दिन की कुल 71 हजार 3 92 गणेश मूर्तियों को विसर्जित किया गया था, तो वही इस साल ढाई दिन की 67 हजार 776 गणेश मूर्तियों को ही विसर्जित किया गया। इसमें 406 सार्वजनिक गणेश मूर्तियां और 67 हजार 364 परिवार गणेश मूर्ति और 6 गौरी शामिल हैं।

शहर ने इस साल मुंबई में 31 स्थानों में कृत्रिम तालाबों की व्यवस्था की है। इसके साथ ही प्रभादेवी और वर्ली में रासायनिक पदार्थो के साथ तीन ऐसे कृत्रिम तालाब बनाये गए है जिनमें मुर्तियों के डूबाने के बाद तीम दिन में वह पानी में मिल जाएगी।

यह भी पढ़े- कांग्रेस के बूरे कामों के लिए गाली खा रहे मोदी, फिर भी कर रहे है देश की सेवा- बीजेपी सांसद

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें