Advertisement

अंगारकी चतुर्थी को सिद्धि विनायक मंदिर में दर्शन के लिए QR कोड प्राप्त लोग ही जा पाएंगे

जिन भक्तों से दर्शन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कराया है, और जिन्हें QR कोड मिल चुका है उन्हें ही मंदिर के अंदर जाने की अनुमति मिलेगी।

अंगारकी चतुर्थी को सिद्धि विनायक मंदिर में दर्शन के लिए QR कोड प्राप्त लोग ही जा पाएंगे
SHARES

मुंबई (Mumbai) में कोरोना (covid19) के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। जिसे लेकर फिर से चिंता व्यक्त की जा रही है। कोरोना वायरस (corona virus)के बढ़ते खतरे को देखते हुए सिद्धि विनायक मंदिर की तरफ से अंगारकी संकष्टी चतुर्थी के अवसर पर भक्तों के दर्शन को बंद करने का निर्णय किया गया है। हालांकि जिन भक्तों ने पहले से ही दर्शन के लिए अपने या अपने परिवार वालों का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा लिया था, उन्हें इससे छूट दी गई है। ऐसे भक्तों को ऑनलाइन ही एक QR कोड भेजा जाएगा, जिसे गेट पर दिखा कर वे मंदिर के अंदर प्रवेश पा सकेंगे।

इस बार अंगारकी चतुर्थी 2 मार्च को है। अंगारकी चतुर्थी के अवसर पर सिद्धिविनायक मंदिर में बड़ी संख्या में भक्त बप्पा का दर्शन करने के लिए आते हैं। चूंकि ऐसे अवसर पर काफी भीड़ जमा होती है, और कोरोना काल में प्रशासन द्वारा धार्मिक स्थलों पर भीड़ जुटने पर रोक लगाई गई है, इसलिए मंदिर प्रशासन की तरफ से इस बार ऐसा निर्णय लिया गया है। और जो लोग दर्शन पा सकेंगे उनके लिए भी सुबह 8 से 9 बजे के बीच का समय ही दिया गया है।

जिन भक्तों से दर्शन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण कराया है, और जिन्हें QR कोड मिल चुका है उन्हें ही मंदिर के अंदर जाने की अनुमति मिलेगी। साथ ही, यह QR कोड गैर-हस्तांतरणीय है और QR कोड की प्रतिलिपि व्हाट्सएप, फोटोकॉपी और स्क्रीनशॉट के माध्यम से स्वीकार नहीं की जाएगी।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें