खिचड़ी , सिर्फ खाना ही नहीं है !

खिचड़ी को ना सिर्फ राष्ट्रीय भोजन घोषित किया जाना चाहिए बल्की खिचड़ी शब्द को जुगाड़ के साथ साथ राष्ट्रीय शब्द भी घोषित कर देना चाहिए।

  • खिचड़ी , सिर्फ खाना ही नहीं है !
  • खिचड़ी , सिर्फ खाना ही नहीं है !
  • खिचड़ी , सिर्फ खाना ही नहीं है !
SHARE

खबरें आ रही है की खिचड़ी को राष्ट्रीय भोजन घोषित किया जा सकता है। 4 नवंबर को खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय इस बात का ऐलान कर सकता है की खिचड़ी को राष्ट्रीय भोजन बना दिया गया है। दरअसल 4 नवंबर को हर साल वर्ल्ड फू़ड डे मनाया जाता है जिसे देखते हुए सरकार इस दिन इस प्रस्ताव को फैसले के रुप में मंजूर कर सकती है।

कहने को तो खिचड़ी एक भोजन का नाम है लेकिन भारतीयो के लिए ये भी किसी जुगाड़ से कम नहीं। खिचड़ी के नाम के आधार पर तो अब फिल्में और सिरियल भी बनने लगे है। भारतीय संस्क-त में खिचड़ी शब्द का अपना एक अलग ही महत्तव है। गाहे बगाहे भारत में ज्यादातार लोग इस शब्द का इस्तेमाल एक दो दिन में तो कर ही लेते है। खिचड़ी को ना सिर्फ राष्ट्रीय भोजन घोषित किया जाना चाहिए बक्ली खिचड़ी शब्द को जुगाड़ के साथ साथ राष्ट्रीय शब्द भी घोषित कर देना चाहिए।


किसी काम का 'खिचड़ी' करना

एक आम भारतीय दिन में कम से कम एक बार तो इस शब्द का इस्तेमाल करता है। काम का खिचड़ी करना मतलब काम को बिगाड़ देना। हालांकी भारतीय संसकृति में खिचड़ी शब्द को हमेशा से ही सम्मान के साथ देखा गया है लेकिन बदलते जमाने ने इस शब्द की परिभाषा को ही बदल दिया है , अगर आज के दौर में कोई भी काम छइक तरह से ना हो हम सामान्तह सकते है की 'पूरे काम का खिचड़ी' कर दिया।


बीरबल की खिचड़ी

इस शब्द से शायद ही कोई भारतीय अंजान होगा। बीरबल की खिचड़ी के बारे में तो हमने स्कूल में ही पढ़ा है, अगर हम किसी कार्य के दौरान बीरबल की खिचड़ी शब्द का इस्तेमाल करते है तो इसका मतलब होता है की कार्य में बहूत ज्यादा ही समय लग गया या लग रहा है। भारत में बीरबल की खिचड़ी शब्द का इस्तेमाल करना आम बात है।

'खिचड़ी' त्यौहार भी है

खिचड़ी शब्द भारत के इतिहास और सभ्यता से जुड़ा है। उत्तर भारत में मकर संक्रांति पर खिचड़ी खाने, खिलाने , दान देने की परंपरा है तो वही दक्षिण भारत में जो पोंगल मनाया जाता है वह खिचड़ी ही है।


खिचड़ी पकाना

अब आप केंहेग की खिचड़ी पकाने का मतलब होता है खिचड़ी बनाना, लेकिया यहां पर इस शब्द का मतल कुछ और ही है। इस शब्द का इस्तेमाल हम आम तौर पर दोस्तो, दुश्मनो या रिश्तेदारों के लिए करते है। खिचड़ी पकाने का एक मतलब यह भी होता है किसी कार्य की प्लानिंग करना।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें