Advertisement

मलेरिया और डेंगू के 1.28 ठिकाने किए गए नष्ट


मलेरिया और डेंगू के 1.28 ठिकाने किए गए नष्ट
SHARES

मुंबई (Mumbai) में बारिश के मौसम में डेंगू (dengue), मलेरिया (malaria) और अन्य महामारियों के प्रसार को रोकने के लिए मच्छरों के पनपने वाले 1.28 लाख ठिकाने को मुंबई नगर निगम BMC द्वारा नष्ट कर दिया गया है। बताया जाता है कि जनवरी महीने से लेकर जून तक चलाई जा रही इस मुहिम में अब तक 1 लाख 28 हजार 220 स्थानों को नष्ट किया गया है।

बीएमसी ने कुओं, पानी की टंकियों, स्विमिंग पूल जैसी कुल 1 लाख 72 हजार 572 जगहों का निरीक्षण किया। इनमें से मलेरिया फैलाने वाले संभावित 4,601 ठिकानों का नष्ट किया गया।  कुल 53 लाख 92 हजार 754 स्थानों पर पानी के पाइप, टायर, ऑड आर्टिकल, पेट्री लेटस जैसे स्थानों पर जहां डेंगू के संभावित लार्वा पाए जाने वाले स्थानों का निरीक्षण किया गया। जिसमें से 15 हजार 593 स्थान को नष्ट कीया गया।

कई गगनचुंबी इमारतों में डेंगू के लार्वा पाए गए हैं। कई मलिन बस्तियों में जगह-जगह पानी भरा हुआ है। जिनमें बड़ी संख्या में डेंगू के लार्वा पनपते हैं। चुंकि, कई लोग गांव चले गए हैं तो छप्परों में पड़े टायरों में पानी भरा हुआ है, छत पर फैलाये गए प्लास्टिक / तिरपाल पर पानी जमा है, उसे भी साफ किया जा रहा है।

विभाग की तरफ से इस बात की अपील लोगों से की जा रही है कि, लोग अपने आसपास पानी जमा न होने दें, घर के बाहर रखे गए बर्तनों, गमलों में पानी जमा न होने दे।


आपको बता दें कि इस समय मुंबई कोरोना वायरस जैसी बीमारी से जूझ रही है और मानसून भी आ गया है, जिसे लेकर प्रशासन की चिंता बढ़ गई है क्योंकि मानसून के महीने में डेंगू, मलेरिया के साथ-साथ अन्य मौसमी बुखार फैलते हैं। इससे BMC को एक साथ दो मोर्चों पर लड़ना पड़ रहा है।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय