पटाखे ने छीन ली बच्चे के आंख की रोशनी


SHARE

अकसर बड़ो द्वारा छोटे बच्चों को हिदायत दी जाती है कि पटाखे फोड़ते समय सावधानी बरतें, लेकिन कई लोग बात नहीं मानने पर इसका खामियाजा भी भुगतते हैं। इसी तरह का मामला मुंबई से सटे ठाणे का है, जहां एक 14 साल का लड़का पटाखे फोड़ते समय अपनी आंख गंवा बैठा।

क्या था मामला?

मंगलवार को नरक चतुर्दशी थी, इस मौके पर विनय केणी नामका यह बच्चा अपने दोस्तों के साथ पटाखे फोड़ रहा था। पटाखे फोड़ने के दौरान एक पत्थर उछल कर विनय के दाहिने आँख में धंस गया। आंख चोटिल होने के कारण विनय चिल्लाने लगा. उसे तत्काल मुंबई के जेजे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसकी आंख का ऑपरेशन कर पत्थर तो निकाल दिया लेकिन विनय की आंख चली गयी। डॉक्टरों के मुताबिक अब विनय उस आंख से कभी नहीं देख पाएगा।

इस समय विनय डॉक्टरों की देखरेख में है। उसे अभी एक हफ्ते तक अस्पताल में ही रखना पड़ेगा। हमारी सलाह है कि  पैरेंट्स भी पटाखे फोड़ते समय बच्चों पर ध्यान दें।

डॉ. तात्याराव लहाने, नेत्र चिकित्सक, जे.जे.अस्पताल

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें