Advertisement

फर्जी कोरोना वैक्सीन के तार नवी मुंबई से भी जुड़े, 352 लोगों को दिया गया नकली डोज

चौकानें वाली बात यह है कि मुंबई में जिस गिरोह ने फर्जी टीकाकरण किया था, उसी गिरोह ने यहां भी अपने काम को अंजाम दिया है।

फर्जी कोरोना वैक्सीन के तार नवी मुंबई से भी जुड़े, 352 लोगों को दिया गया नकली डोज
SHARES

मुंबई (mumbai) में फर्जी टीकाकरण (fake vaccination) मामले की जांच अभी चल ही रही है कि इसी बीच नवी मुंबई (navi Mumbai) से भी फर्जी टीकाकरण होने की खबर सामने आई है। चौकानें वाली बात यह है कि मुंबई में जिस गिरोह ने फर्जी टीकाकरण किया था, उसी गिरोह ने यहां भी अपने काम को अंजाम दिया है। इस गिरोह के तार अब तक मुंबई, नवी मुंबई सहित ठाणे (Thane) से भी सामने आ चुके हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, नवी मुंबई के तुर्भे पुलिस ने जानकारी दी है कि, इस मामले के आरोपी मनीष त्रिपाठी ने नवी मुंबई के एक निजी कार्यालय में कम से कम 352 लोगों को कोरोना वायरस (coronavirus) के लिए नकली टीके लगाए। 

अधिकारियों ने आगे बताया कि त्रिपाठी ने अप्रैल में नेरुल के टीटीसी के औद्योगिक इलाके में स्थित एटमबर्ग टेक्नोलॉजी के एक कर्मचारी पद्मकत पाटिल से संपर्क किया था। उसने पाटिल को यह कहते हुए गुमराह किया कि, वह एक डॉक्टर है और वह उनके कार्यस्थल पर ही टीकाकरण शिविर की व्यवस्था कर सकता है।

इसके अलावा, तुर्भे पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ निरीक्षक राजेंद्र आव्हाड ने कहा, “24 अप्रैल को कंपनी के परिसर में टीकाकरण शिविर का आयोजन किया गया था। कर्मचारियों को नकली डोज देने के लिए डॉक्टरों और नर्सों की व्यवस्था की गई थी।”

बता दें कि, इससे पहले गुरुवार 1 जुलाई को कांदिवली में हीरानंदानी हेरिटेज सोसायटी (hiranandsni heritage society) में फर्जी कोविड-19 टीकाकरण का मामला सामने आने के बाद ठाणे से भी फर्जी टीकाकरण के मामले सामने आए। खोले गए 10 कैंपों में कई लोगों को सिरिंज में खारा पानी डाल कर लगाया गया, जिसकी जांच की जा रही है।

इसके अलावा, मुंबई में लगभग 2,000 लोग नकली टीकाकरण शिविरों के शिकार हुए हैं। रिपोर्टों के अनुसार, मुंबई पुलिस ने अब तक सात प्राथमिकी दर्ज की हैं और 10 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिसमें एक महिला भी शामिल है जिसने टीकाकरण प्रमाण पत्र बनाने के लिए CoWIN खाते का उपयोगकर्ता नाम/पासवर्ड साझा किया था।

यह भी पढ़ें: फर्जी टीकाकरण केस में हो रहे हैं चौकानें वाले खुलासे, टीका की जगह लगाया खारा पानी

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें