Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
53,09,215
Recovered:
47,07,980
Deaths:
79,552
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
37,656
1,657
Maharashtra
5,19,254
39,923

महाराष्ट्र: कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज लगने पर एक 45 वर्षीय व्यक्ति की हुई मौत

यह राज्य में पहला मामला है जब कोरोना का टीका लगने के कारण किसी की मौत हुई है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि वे मृत्यु को टीकाकरण से जोड़ने से पहले पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार करेंगे।

महाराष्ट्र: कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज लगने पर एक 45 वर्षीय व्यक्ति की हुई मौत
(File Image)
SHARES

महाराष्ट्र के ठाणे जिले के भिवंडी के एक अस्पताल में मंगलवार, 2 मार्च को एक COVID-19 वैक्सीन की दूसरी खुराक देने के तुरंत बाद एक 45 वर्षीय व्यक्ति की मृत्यु हो गई। यह जानकारी एक अधिकारी ने शेयर की है।

यह राज्य में पहला मामला है जब कोरोना का टीका लगने के कारण किसी की मौत हुई है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि वे मृत्यु को टीकाकरण से जोड़ने से पहले पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार करेंगे।

सुखदेव कीरदित, एक स्थानीय चिकित्सक के चालक के रूप में कार्यरत थे, ने लगभग 11 बजे शॉट लिया। डॉक्टरों ने कहा कि टीका लगने के 15-20 मिनट के बाद, उन्होंने गिडनेस की शिकायत की, जब वह सिविक-रन इनोक्यूलेशन सेंटर में वेटिंग हॉल में बैठे थे। बाद में, उसे अवलोकन कक्ष में ले जाया गया जहां वे बेहोश हो गए।

भिवंडी निज़ामपुरा नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. केआर खरात ने कहा कि सुखदेव कीरदित की मौत का कारण पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगा, जिसमें सुखदेव कीरदित का मेडिकल इतिहास, रिकॉर्ड आदि शामिल हैं। जांच की जा रही है। खरात ने कहा कि पहले शॉट के बाद कीरदिट को कोई प्रतिकूल घटना नहीं हुई।

वहीं कीरदित के परिवार का कहना है कि वह एक स्वस्थ व्यक्ति थे जो कोरोनोवायरस वैक्सीन की दूसरी खुराक लेने के लिए सुबह घर से निकले थे। वह भाग्यनगर में टीकाकरण केंद्र 75 पर कोविशिल्ड की दूसरी खुराक के लिए गए थे।

2 मार्च मंगलवार को, महाराष्ट्र में सोमवार से मामूली वृद्धि के साथ 33,044 लोगों को टीका लगाया गया था लेकिन हर हफ्ते तक दैनिक टीकाकरण की तुलना में बहुत कम था। इनमें से 20,000 से अधिक वरिष्ठ नागरिक और 45 वर्ष से ऊपर के लोग कॉम्बिडिटी वाले थे।

पूरे भारत में अब तक 40 लोगों की मृत्यु टीकाकरण के बाद हुई है।  17 मामलों में, कोई पोस्टमॉर्टम नहीं किया जा सका है।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें