Advertisement

ठाणे में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1 हजार के पार

1 जुलाई, 2020 तक के आंकड़ों के अनुसार, ठाणे जिले में 39,316 कोरोना वायरस मरीज पंजीकृत किए गए हैं। इनमें से 21,631 कोरोना रोगियों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है ।

ठाणे में कोरोना से मरने वालों की संख्या 1 हजार के पार
SHARES

मुंबई से सटे ठाणे (Thana) जिला में कोरोना (Coronbavirus) रोगियों की संख्या में इजाफा बहुत ही तेज गति से हो रहा है। हालांकि कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार द्वारा कई तरह के प्रयास लगातार किए जा रहे हैं, बावजूद इसके परिस्थिति दिन प्रति दिन गंभीर होती जा रही है। ठाणे में अब तक कोरोना से 1 हजार से अधिक लोगों की जान जा चुकी है।

1 जुलाई, 2020 तक के आंकड़ों के अनुसार, ठाणे जिले में 39,316 कोरोना वायरस मरीज पंजीकृत किए गए हैं। इनमें से 21,631 कोरोना रोगियों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है और 15,621 कोरोना रोगियों को ठीक करने के बाद छुट्टी दे दी गई है। इसके अलावा, 1019 लोगों की इस बीमारी से मृत्यु हो चुकी है। 

ठाणे में इस स्थिति को देखते हुए ठाणे नगर निगम क्षेत्र में 2 जुलाई सुबह 7 बजे से लेकर 12 जुलाई की शाम 7 बजे तक तालाबंदी की घोषणा की गई है। यह लॉकडाउन अधिक कठोर होगा, विशेष रूप से शहर के नियंत्रण क्षेत्र में। यह निर्णय ठाणे नगर आयुक्त और ठाणे पुलिस आयुक्त की संयुक्त बैठक में लिया गया है।


लॉकडाउन के दौरान प्रतिबंध इस प्रकार हैं:

  • केवल आवश्यक सेवा कर्मियों को यात्रा करने की अनुमति, कर्मचारियों को सरकारी कार्यालयों में काम करते समय कम से कम 3 फीट की दूरी बनाए रखना होगा। उचित स्वच्छता और हाथ की सफाई करना अनिवार्य।
  • आपातकालीन चिकित्सा सेवाओं के तहत यात्रियों के परिवहन की अनुमति।
  • सभी अंतरराज्यीय बसों, यात्री परिवहन, निजी वाहनों, निजी ऑपरेटरों को बंद रखा जाएगा, आउटबाउंड पर्यटक वाहनों को अनुमति दी जाएगी।
  • सार्वजनिक जगहों पर अत्यावश्यक गोष्ठी या खरीददारी के लिए 5 से अधिक लोग एकत्र होने की इजाजत नहीं। 
  • व्यावसायिक प्रतिष्ठान, कार्यालय, कारखाना, कार्यशाला, गोदाम आदि सहित सभी दुकानें बंद रहेंगी। चिकित्सा उत्पादों, दाल, चावल, मिल, खाद्य और संबद्ध उद्योगों, डेरी, भोजन और चारे, आदि आवश्यक वस्तुओं के लिए उत्पादन इकाइयों से सहमति।

संबंधित विषय
Advertisement