Advertisement

मुंबई: फिर बढ़ने लगे कोरोना के केस, 5 दिनों में 4460 मरीज किए गए दर्ज

दिवाली बीत चुकी है और इस दौरान रोक के बावजूद बाजरों में ख़रीददारी के लिए भीड़ जुटी। साथ ही कई लोगों ने फेस मास्क, सोशल डिस्टेंस, सैनिटेशन जैसी जरूरी चीजों का पालन करने में लापरवाही भी बरती।

मुंबई: फिर बढ़ने लगे कोरोना के केस, 5 दिनों में 4460 मरीज किए गए दर्ज
SHARES

कोरोना (Coronavirus) के लिहाज से मुंबई (mumbai) के लिए बुरी खबर है। पिछले कुछ महीने से कोरोना (Covid19) के केस में लगातार कमी आने के बाद अब एक बार फिर से मुंबई में कोरोना के केस में वृद्धि हो रही है।

इस बारे में स्थानीय प्रशासन का कहना है कि, अगले 15 दिन कोरोनो वायरस (Coronavirus) संक्रमण के लिए महत्वपूर्ण हैं। क्योंकी दिवाली बीत चुकी है और इस दौरान रोक के बावजूद बाजरों में ख़रीददारी के लिए भीड़ जुटी। साथ ही कई लोगों ने फेस मास्क, सोशल डिस्टेंस, सैनिटेशन जैसी जरूरी चीजों का पालन करने में लापरवाही भी बरती।

यही कारण है कि, पिछले कुछ दिनों से कोरोना के केस में वृद्धि देखने को मिल रही है। कोरोना मरीजों की संख्या में वृद्धि से प्रशासन की चिंताओं में भी वृद्धि हो रही है।

विशेषज्ञों सहित कई डॉक्टर दीपावली के बाद और ठंड के मौसम की शुरुआत होने के कारण कोरोना संक्रमण के तेजी से फैलने की भविष्यवाणी कर रहे हैं। यह दूसरी लहर दिल्ली सहित अहमदाबाद, राजस्थान, मध्य प्रदेश में दिखने भी लगी है। पिछले कुछ दिनों में दिल्ली में एक हजार से अधिक कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं। मुंबई में भी इसी तरह की लहर आने के कयास लगाए जा रहे हैं।

जहां तक मुंबई के आंकड़ों का सवाल है, 16 नवंबर को यानी भाऊ बीज के अगले दिन मुंबई में 541 कोरोना वायरस के मरीज पाए गए थे। जबकि 14 लोगो की मौतें हुई थी। अब मुंबई में कोरोना पीड़ितों की कुल संख्या बढ़कर 2,70,660 हो गई और मरने वालों की भी कुल संख्या 10,599 तक पहुंच गई। मरीजों के बढ़ने का सिलसिला लगातार बढ़ता ही गया और 21 नवंबर को मुंबई में 1,093 कोरोना वायरस के मरीज पाए गए, जबकि 17 मौतें हुईं। इस आंकड़ों के बाद मुंबई में कोरोना पीड़ितों की कुल संख्या बढ़कर 2,74579 हो गयी, जबकि 10,656 लोगों की हुई।

इन आंकड़ों के अनुसार, 17 नवंबर से 21 नवंबर तक 5 दिनों के दौरान मुंबई में 4460 कोरोना वायरस मरीज पाए गए हैं।  इन 5 दिनों (541 + 871 + 924 + 1031 + 1093) में कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़ रही है। प्रशासन नेे मुंबईकरों को इस संबंध में अधिक सतर्क रहने की अपील की है।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement