करॉना वायरस: चीन से आए हुए 2 संदिग्धों को किया गया अस्पताल में भर्ती, बनाया गया विशेष वॉर्ड

चीन में चीन में करॉना वायरस से बड़ी संख्या में संक्रमित होने के बाद कस्तूरबा अस्पताल में मरीजों के इलाज के लिए अलग से एक स्वतंत्र कक्ष खोला गया है।

SHARE

चीन में हाहाकार मचाने वाला करॉना वायरस (corona virus) को देखते हुए अब भारत भी एहतियात बरत रहा है चीन से मुंबई आए दो व्यक्तियों को करॉना वायरस से संक्रमित होने की आशंका के चलते उन्हें डॉक्टरों की निगरानी में अलग से रखा गया है आपको बता दें कि इस समय चीन में करॉना वायरस से बड़ी संख्या में लोग संक्रमित हैं और इसके चलते कई लोगों की मौत हो चुकी है।

इस बाबत बीएमसी के आरोग्य विभाग ने कहा कि, मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर 19 जनवरी से 1,789 यात्रियों की करॉना वायरस संक्रमण की जांच (थर्मल स्क्रीनिंग) हो चुकी है। इन्हीं में से दो जिन्हें खांसी और सर्दी होने के बाद इलाज के लिए चिंचपोकली के कस्तूरबा अस्पताल भेज दिया गया इन दोनों को अलग से एक वॉर्ड में रखा गया है

चीन में चीन में करॉना वायरस से बड़ी संख्या में संक्रमित होने के बाद कस्तूरबा अस्पताल में मरीजों के इलाज के लिए अलग से एक स्वतंत्र कक्ष खोला गया है 

राज्य सरकार की भी तरफ से कोरोना वायरस पर रोक लगाने के निर्देश दिए हैं, इसलिए चीन से मुंबई आने वाले सभी यात्रियों को हवाई अड्डे से ही कस्तूरबा अस्पताल ले जाया जाएगा, और वहां उनका इलाज किया जाएगा। वायरस  को फैलने से रोकने के लिए, मुंबई, दिल्ली हवाई अड्डों सहित देश के तीन हवाई अड्डों पर भी चीन से आने वाले यात्रियों के थर्मल निरीक्षण होंगे।

हेल्थ स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि अब तक इस जानलेवा संक्रमण का कोई मामला सामने नहीं आया है। उन्होंने कहा, ‘बीते 14 दिन में चीन के वुहान से होकर आए किसी भी यात्री को थर्मल स्क्रीनिंग में इससे संक्रमित नहीं पाया गया।

इस विषाणु से संक्रमण का पहला मामला चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान से सामने आया था। चीन में करॉना वायरस के मद्देनजर बृह्ममुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) के कस्तूरबा अस्पताल में एक अलग वॉर्ड बनाया गया है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें