Advertisement

धारावी 70 फीसदी हुई कोरोना मुक्त


धारावी 70 फीसदी हुई कोरोना मुक्त
SHARES


एक समय कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण बदनाम हो चुकी एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी झोपड़ी वाला इलाका धारावी (asia largest slum area dharavi) से अब अच्छी खबर है। खबर यह है कि धारावी अब 70 फीसदी तक कोरोना मुक्त (Corona free dharavi) हो चुकी है। इससे प्रशासन को बहुत बड़ी राहत मिली है, हालांकि मरीजों के मिलने का सिलसिला अभी भी जारी है।

BMC के आंकड़ों के मुताबिक धारावी में कुल 2282 मरीजों में से 1618 मरीज ठीक हो चुके हैं। धारावी में शुरू में लगभग 80 से 90 कोरोना मरीज प्रतिदिन पाए जाते थे। पिछले डेढ़ महीने से धारावी में मात्र 20 मरीज ही मिले हैं, जो कि अच्छी बात है।बुधवार को भी धारावी में 14 मरीज मिले। जिसकेे बाद धारावी में कोरोना (Covid-19) रोगियों की संख्या 2282 तक पहुंच गई है। इस वाायरस सेे अब तक धारावी में लगभग 82 मरीजों की मौत हो चुकी है।

शुरुआत में, यह आशंका जताई जा रही थी कि, जिस तरह से धारावी में कोरोना मरीज मिल रहे हैं उससे मरीजों की संख्या लाखों तक जा सकती है। लेकिन अब स्थिति बिल्कुल उलट है। वर्तमान में, धारावी में 535 करोड़ रोगियों का इलाज चल रहा है। और 1618 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

धारावी में कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए, मुंबई नगर निगम, गैर सरकारी संगठनों, राज्य सरकार और अन्य संगठनों द्वारा घरों का सर्वेक्षण किया गया था।  यहां तक कि धारावी में हल्के लक्षणों वाले लोगों को शुरू में छोड़ दिया गया था।  रेजिडेंट भी डॉक्टर, नगर निगम के अधिकारियों के साथ थे। आखिरकार धारावी में कोरोना की बढ़ती संख्या नियंत्रण में आ गई।

हालांकि चिंता की बात यह है कि, धारावी के बाद अब मुंबई के नए इलाके कोरोना हॉटस्पॉट बन कर सामने आए हैं। बुधवार को राज्य में कुल 198 कोरोना मरीजों की मौत हुईं। साथ ही बुधवार को ही मुंबई में एक दिन में 1,511 नए मरीज दर्ज किए गए।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय